Home » बिज़नेस » SBI: State Bank of India gold deposit scheme know the benefits
 

SBI की धमाकेदार गोल्ड स्कीम, घर में पड़ा सोना से करें हजारों रूपये प्रतिमाह की कमाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 June 2019, 17:12 IST

हमारे देश में ज्वेलरी के लिए सबसे प्रचलित धातु सोना है. गोल्ड की खासियत है कि समय के साथ-साथ इसकी कीमत बढ़ती ही जाती है. भविष्य की आर्थिक सुरक्षा के लिए लोग सोना खरीदकर रखते हैं. ज्वेलरी के तौर महिलाएं इसे काफी पसंद करती है. अमीर हो या गरीब सभी के पास कुछ न कुछ सोना मौजूद रहता है. लेकिन अगर आपके पास किसी भी तरह का सोना है तो SBI की गोल्ड स्कीम से आप घर बैठे पैसे कमा सकते हैं.

 LIC की नई जबरदस्त स्कीम, 30 रुपये रोज जमा करने पर मिलेगा 10.62 लाख का बंपर रिटर्न

 

करें हजारों रुपये की कमाई

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने स्वर्ण जमा स्कीम शुरू किया है. स्टेट बैंक की इस स्कीम का नाम Revamped Gold Deposit Scheme (R-GDS) है. इस स्कीम के अंतर्गत आप अपने घर में रखे सोने को जमा कर सकते हैं. इससे आपका सोना सुरक्षित रहने के साथ-साथ आमदनी का जरिया भी देता है. जिस मात्रा में आप गोल्ड जमा करेंगे उसके मुताबिक आपको ब्याज भी मिलता है. आप इस योजना के तहत आप सोने के सिक्के, ज्वेलरी या किसी भी तरह का सोना जमा कर सकते हैं. इस स्कीम में स्टोन और अन्य धातुओं को जमा नहीं किया जा सकता.

EPFO ने किया नियमों में बड़ा बदलाव, 6 करोड़ नौकरी-पेशा लोगों पर पड़ेगा सीधा असर

इतना सोना करना होगा जमा

SBI की ऑफिशियल वेबसाइट sbi.co.in पर दी गई जानकारी के मुताबिक इस गोल्ड स्कीम (आर-जीडीएस) के तहत न्यूनतम 30 ग्राम सोना जमा करना होगा और जमा करने की कोई अधिकतम सीमा नहीं है. इसमें तीन तरह की डिपॉजिट स्कीम है. शॉर्ट टर्म बैंक डिपॉजिट (STBD) जिसकी अवधि 1 साल से ले 3 साल तक होता है. दूसरा होता है, मध्यम अवधि गोल्ड डिपॉज़िट (MTGD) जिसकी समय-सीमा 5 से 7 वर्ष के बीच है. लॉन्ग टर्म गवर्नमेंट डिपॉजिट (LTGD) 12 से 15 साल के लिए. 

जानें कितना मिलेगा ब्याज

शॉर्ट टर्म बैंक डिपॉजिट के तहत 1 साल के लिए 0.50%, 2 साल तक के लिए 0.55 % और 3 साल के लिए 0.60 प्रतिशत का ब्याज मिलता है. मध्यम अवधि सरकारी जमा के तहत 5 से 7 साल की अवधि के लिए जमा पर 2.25 प्रतिशत सालाना ब्याज मिलता है. लॉन्ग टर्म डिपॉजिट यानी 12 से 15 साल के लिए 2.50 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा. ब्याज का भुगतान 31 मार्च को सालाना रूप या मैच्योरिटी पर मिलेगा.

First published: 27 June 2019, 17:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी