Home » बिज़नेस » SBI to impose penalty on bank customers who fails to maintain average monthly balance, wef April 1
 

सावधानः अब ग्राहकों से SBI वसूलेगी जुर्माना, जमा रखनी होगी न्यूनतम रकम

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 March 2017, 18:13 IST

देश की सबसे बड़ी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया SBI ने फैसला लिया है कि वो न्यूनतम मासिक औसत (मिनिमम एवरेज मंथली बैलेंस) रकम से कम होने पर खाताधारकों पर जुर्माना लगाने की प्रक्रिया फिर से शुरू करेगी.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक कुछ वर्ष पहले SBI ने नए ग्राहकों को आकर्षित करने के फेर में न्यूनतम राशि जमा न होने पर लिया जाने वाला जुर्माना खत्म कर दिया था.

सूत्रों का कहना है कि आगामी 1 अप्रैल 2017 से SBI ऐसे ग्राहकों से जुर्माना वसूलना शुरू कर देगी, जिनके खाते में एक निर्धारित रकम से कम शेष नहीं रहता है.

SBI की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक मेट्रोपॉलिटन शहरों में बचत खाता (saving bank) धारकों को अपने खाते में औसत 5,000 रुपये की न्यूनतम मासिक धनराशि बरकरार रखनी होगी. यानी रोजाना ग्राहक के खाते में 5,000 रुपये की न्यूनतम धनराशि का औसत निकले.

जो ग्राहक इस न्यूनतम औसत धनराशि से 50 फीसदी से कम की रकम शेष रख पाते हैं उनपर 50 रुपये का जुर्माना और सर्विस टैक्स वसूला जाएगा. वहीं, अगर यह यह रकम 50-75 फीसदी के बीच रहती है तो खाताधारक को सर्विस टैक्स के साथ 75 रुपये जबकि 75 फीसदी से ज्यादा कम शेषराशि होने पर 100 रुपये और सेवा कर चुकाना होगा.

इसी तरह शहरी इलाकों में ग्राहकों के लिए औसत मासिक शेष राशि 3,000 रुपये है. इसमें कमी के लिए ऊपर की ही तरह 40, 60 और 80 रुपये के साथ सर्विस टैक्स वसूला जाएगा.

अर्ध-शहरी इलाकों के लिए यह औसत मासिक शेष 2000 जबकि ग्रामीण इलाकों के लिए 1,000 रुपये होगा.

सभी ग्राहक नीचे दी गई सूची में एवरेज मंथली बैलेंस और इन्हें मेंटेन न कर पाने की स्थिति में लगने वाले जुर्माने को देख सकते हैं.

First published: 4 March 2017, 18:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी