Home » बिज़नेस » SIAM data revealed: 21 year worst round of vehicle sales
 

SIAM के आंकड़ों में खुलासा: 21 साल के सबसे बुरे दौर में वाहनों की बिक्री

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2019, 9:48 IST

इस साल डिमांड में कमी और आर्थिक गतिविधियों के कारण भारत में गाड़ियों की बिक्री अपने दो दशक के सबसे निचले स्तर पर है. उद्योग निकाय सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (सियाम) के आंकड़ों के अनुसार अगस्त में दसवें महीने में यात्री वाहन की बिक्री 31.57 फीसदी घटकर 196,524 इकाई रह गई. 1997-98 में SIAM द्वारा डेटा रिकॉर्ड करना शुरू करने के बाद से यह सबसे तेज गिरावट दर्ज की गई है.

वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री आर्थिक गतिविधि का एक बैरोमीटर मानी जाती है, जिसमें लगभग 39 फीसदी की गिरावट आकर यह 51,897 इकाई तक आ गई है. दोपहिया वाहनों की बिक्री 22.24 फीसदी घटकर 1,514,196 इकाई रह गई है. सभी श्रेणियों में वाहन बिक्री 23.55 फीसदी गिरकर 1,821,490 इकाई हो गई. सुस्त मांग के कारण अशोक लेलैंड ने सितंबर में अपनी अपने प्लांट कुछ दिन के लिए बंद करने की घोषणा की थी.

पिछले हफ्ते देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने 7 सितंबर और 9 सितंबर को गुरुग्राम और मानेसर में अपने कारखानों में दो उत्पादन दिनों तक बंद की घोषणा की. एक रिपोर्ट की माने तो कम बिक्री के कारण उत्पादन में कटौती की गई है और इसकी वजह से वाहन विनिर्माण, घटक निर्माण और वाहन वितरण उद्योगों में 350,000 श्रमिकों को पहले ही नौकरी से हाथ धोना पड़ा है.

SBI ने लाखों ग्राहकों को दिया झटका, FD की ब्याज दरों में की इतनी कटौती

First published: 10 September 2019, 9:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी