Home » बिज़नेस » soft bank founder japani business man masayoshi son loss 900 crore rupees in bitcoin
 

जल्द पैसे कमाने के चक्कर में इस अरबपति ने किया ये काम, डूब गए 900 करोड़ रुपये, अब हो रहा पछतावा

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 April 2019, 13:11 IST

BitCoin की कीमतों में अप्रत्याशित उछाल के बाद बड़ी संख्या में लोगों ने जल्द से जल्द पैसा बनाने के लिए इस वर्चुअल करेंसी में निवेश करना शुरू कर दिया. शुरुआती दौर में बिटकॉइन ने अच्छा-खासा रिटर्न दिया जिससे लालच में पड़कर निवेशकों ने अधिक मुनाफे के चक्कर में निवेश करना शुरू कर दिया. बिटकॉइन में दूसरों को रातोंरात कई गुना कमाते देख नए-नए निवेशकों के साथ-साथ बल्कि जापान के अरबपति और सॉफ्टबैंक के संस्थापक मासायोशी सोन जैसे दिग्गज बिज़नेस मैन ने भी इन्वेस्ट किया. भारत सहित कई देशों ने BitCoin को गैरकानूनी करार देते हुए इसपर प्रतिबंध लगाया था और इसमें निवेश नहीं करने की सलाह दी थी.

बिटकॉइन ने लाखों लोगों को बनाया कंगाल

लेकिन जब बिटकॉइन का गुब्बारा फूटा तो उन लाखों लोगों को कंगाल बना दिया जिन्होंने अपनी जिंदगी भर की पूंजी इस वर्चुअल करेंसी में लगा दी थी. मासायोशी सोन को लगभग 900 करोड़ रुपये (13 करोड़ डॉलर) का नुकसान हुआ. वाल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट में यह खुलासा किया गया है. मासायोशी जापान के दूसरे सबसे अमीर शख्स हैं और उनकी संपत्ति करीब 1.7 लाख करोड़ रुपये है.

तुरंत पैसा लगाने के फैसले से हुआ घाटा

सॉफ्टबैंक के संस्थापक सोन ने बिट कॉइन में उस वक्त निवेश किया था जब BitCoin अपने उच्चतम दर के आस-पास था. उस दौरान एक बिट कॉइन की कीमत 19 हजार डॉलर (13.3 लाख रुपये) के आस पास थी. इसके बाद उन्होंने 2018 में इसे बेच दिया लेकिन तब तक बिट कॉइन की कीमत बहुत नीचे गिर चुकी थी.

इस जापानी कारोबारी को जल्द से जल्द निवेश के लिए निर्णय लेने के लिए जाना जाता है. सोन ने अलीबाबा के फाउंडर जैक-मा के साथ सिर्फ 5 मिनट बातचीत किया और चीनी कंपनी अलीबाबा में निवेश का निर्णय ले लिया. इसके अलावा उन्होंने 30 मिनट में ही एक स्टार्टअप में 1400 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दे दी थी.

First published: 25 April 2019, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी