Home » बिज़नेस » Soiled Rs 200 and 2000 notes Stuck in Exchange Counter of RBI
 

200 और 2000 रुपए के नोटों को नहीं जमा कर रहे बैंक, ये है वजह

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 May 2018, 16:02 IST

एक बार फिर 200 और 2000 रुपये के नोटों की वजह से लोगों की परेशानियां बढ़ सकती हैं. क्योंकि भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने ऐलान किया है कि वो दो सौ और दो हजार के गंदे नोटों को ना तो जमा करेगा और ना ही बदलेगा. इस संबंध में आरबीआई ने एक सर्कुलर जारी किया है.

सर्कुलर के मुताबिक अगर किसी कारण 200 और 2000 रुपये के नोट गंदे हो जाते हैं तो बैंक न तो इन्हें बदलेगा और न ही जमा करेगा. बता दें कि इसके पीछे की वजह करेंसी नोटों के एक्सचेंज से जुड़े नियमों के दायरे में इन नोटों को नहीं रखना है. ये जानकारी मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से सामने आई है.

बता दें कि कटे-फटे नोट या गंदे नोटों को बदलने का मामला आरबीआई (नोट रिफंड) नियमों के अंतर्गत आता है. यह आरबीआई की धारा 28 का हिस्सा है. इस एक्ट के अंतर्गत 5, 10, 50, 100, 1000, 5000 और 10,000 रुपये के करेंसी नोट का जिक्र किया गया है. वहीं इस लिस्ट में 200 और 2000 रुपये के नोट का कोई जिक्र नहीं किया गया है. इसकी बड़ी वजह यह है कि सरकार और आरबीआई ने इन नोटों के बदलने जाने वाले प्रावधानों में बदलाव किया है.

वहीं बैंकर्स का मानना है कि नई सीरीज में कटे-फटे या फिर गंदे नोटों के बारे में काफी कम मामले सामने आये हैं, हालांकि उन्होंने चेतावनी भी दी है कि अगर प्रावधान में जल्द ही बदलाव नहीं किया गए तो दिक्कतें आना शुरू हो सकती हैं. वहीं आरबीआई ने दावा किया है कि उसने वित्त मंत्रालय को 2017 में संशोधन की जरूरत के लिए पत्र लिखा था. वहींं इस बारे में जानकारी रखने वाले एक सूत्र के मुताबिक केंद्रीय बैंक को सरकार से जवाब मिलना अभी बाकी है.

ये भी पढ़ें- पीएनबी घोटाला: भारतीय रिजर्व बैंक ने रिपोर्ट की प्रतियों को साझा करने से किया इनकार

First published: 14 May 2018, 15:58 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी