Home » बिज़नेस » SpiceJet to seek compensation from Boeing after grounding 737 Max aircraft
 

क्यों दांव पर लगा है SpiceJet का भविष्य, बोइंग से की मुआवजे की मांग

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 March 2019, 11:22 IST

स्पाइसजेट बोइंग से मुआवजे की मांग करेगी और 12 ग्राउंडेड 737 मैक्स विमानों के रखरखाव, मरम्मत और ओवरहाल के लिए क्रेडिट की मांग करेगी. गौरतलब है कि स्पाइस जेट ने 205 बोइंग का आर्डर दिया है. जिससे उसका फ्यूचर दांव पर लगा हुआ है.  एयरलाइन के पास फ़िलहाल 13 बोइंग 737 मैक्स है और वह 2019 में 15 बोइंग 737 मैक्स को जोड़ने की योजना बना रहा था.  कंपनी के बयान के अनुसार अक्टूबर-दिसंबर की अवधि में इसकी लागत में केवल 2 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि जेट ईंधन की कीमत में 6 प्रतिशत की वृद्धि हुई.

इसके अतिरिक्त, एयरलाइन को अपनी विस्तार योजनाओं पर धीमी गति से चलना होगा. एयरलाइन ने आगामी गर्मियों की अनुसूची से गुआंगज़ौ, इस्तांबुल, मास्को और मध्य एशिया के अन्य शहरों के लिए उड़ानें शुरू करने की योजना बनाई थी. अब तक इस बात पर कोई स्पष्टता नहीं है कि ग्राउंडिंग कब तक जारी रहेगी. क्योंकि यह फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन के किसी भी निर्देश के बिना किया गया है.

 

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय के प्रमुख

बी एस भुल्लर, ने कहा ''बोइंग को हमें और अन्य नियामकों को आश्वस्त करना होगा कि उसने विमान में बदलाव लागू कर दिए हैं और वे उड़ान भरने के लिए सुरक्षित हैं. बोइंग ने कहा है कि उसने 737 मैक्स विमानों पर उड़ान नियंत्रण प्रणालियों में बड़े बदलाव करने की योजना बनाई है. बदलाव अप्रैल के अंत तक लागू कर दिए जाएंगे.

साल 2014 में बंद होने की कगार पर आ चुकी स्पाइसजेट ने साल 2016 में 205 बोईंग विमानों का आर्डर देकर सबको चौंका दिया था. इसे किसी भारतीय एयरलाइन कंपनी द्वार की गई सबसे बड़ी डील माना जा रहा था. यहां तक कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इसके लिए अजय सिंह का शुक्रिया अदा किया था. ट्रम्प ने कहा था कि बोइंग विमानों के लिए 22 बिलियन डॉलर के इस ऑर्डर के माध्यम से अमेरिकी नौकरियां बनाने में मदद मिलेगी.

First published: 14 March 2019, 11:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी