Home » बिज़नेस » SpiceJet to start dedicated air cargo services from 18 September
 

SpiceJet 18 सितम्बर से देश के बड़े शहरों में शुरू करने जा रहा है ये सेवाएं

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 September 2018, 14:22 IST

नो-फ्रिल एयरलाइन स्पाइसजेट 18 सितंबर से अपनी एयर कार्गो सेवाएं लॉन्च करेगी. महत्वाकांक्षी व्यावसायिक योजनाओं पर काम कर रहे वाहक ने सोमवार को कहा कि इस ब्रांड का नाम 'स्पाइस एक्सप्रेस' होगा. इसके तहत कार्गो सेवाएं संचालित की जाएगी. सीके साथ ही स्पाइसजेट भारत में समर्पित एयर कार्गो सेवाएं शुरू करने वाली पहली एयरलाइन होगी. एक बोइंग 737-700 विमान को पहले मालवाहक विमान के रूप में शामिल किया गया है.

एयरलाइन के एक कार्यकारी अधिकारी ने कहा कि पहली उड़ान राष्ट्रीय राजधानी से बेंगलुरु तक होगी. विमान में 20 टन कार्गो की क्षमता है. एयरलाइन ने एक विज्ञप्ति में कहा गया है "इसकी शुरुआत दिल्ली, बेंगलुरू, गुवाहाटी, हांगकांग, काबुल और अमृतसर से शुरू की जाएगी." एयरलाइन के अनुसार एयर कार्गो सेवाएं इसके सहायक व्यवसाय विकास को बढ़ावा देगी.

 

रिलीज में कहा गया है कि स्पाइसजेट ने 2018-19 में शामिल होने वाले पहले चार मालवाहकों के साथ "एयर कार्गो बेड़े" की योजना बनाई है. बोइंग 737 फ्रेटर्स का बेड़ा "एक बढ़ती प्रत्यक्ष ऑपरेटिंग लागत मॉडल पर संचालित" होगा. अगले पांच वर्षों में देश में एयर कार्गो यातायात 60 फीसदी बढ़ने की उम्मीद है. स्पाइसजेट के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने कहा कि भारत में एयर कार्गो सेवाओं के लिए एक बड़ा अपरिपक्व बाजार है. "हमारी सिद्ध परिचालन क्षमता के साथ, यह बोइंग 737 विमान के साथ 'समर्पित मालवाहक' को हमारी 'पेट कार्गो' सेवा का विस्तार है." वर्तमान में स्पाइसजेट के मौजूदा बेड़े में लगभग 500 टन प्रति दिन कार्गो क्षमता है. एयरलाइन ने कहा, "समर्पित मालवाहक सेवा के लॉन्च के साथ यह क्षमता मार्च 2019 तक चार मालवाहकों के अतिरिक्त चरणबद्ध तरीके से 900 टन तक बढ़ जाएगी." 36 विमानों के बेड़े के साथ स्पाइसजेट 54 गंतव्यों में औसतन 412 उड़ानें संचालित करता है.
First published: 10 September 2018, 14:19 IST
 
अगली कहानी