Home » बिज़नेस » start-up india' a break from licence raj finance minister arun jaitley
 

'स्टार्ट अप इंडिया से लाइसेंस राज का खात्मा होगा'

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने शनिवार को 'स्टार्ट अप इंडिया' पहल की शुरुआत की है. वित्त मंत्र ने 'स्टार्ट अप इंडिया' के तहत जमीनी स्तर पर उद्यमों और युवा उद्यमियों को बढ़ावा देने पर जोर दिए जाने की बात कही है.

विज्ञान भवन में 'स्टार्ट अप इंडिया' का उद्धाटन करते हुए वित्त मंत्री ने कहा, देश में लाइसेंसी राज को समाप्त करने की प्रक्रिया वर्ष 1991 में शुरू हुई थी, लेकिन अब 'स्टार्ट अप इंडिया' से यह राज समाप्त हो जाएगा.

जेटली ने कहा है कि सरकार अगले महीने बजट में एक अनुकूल कर प्रणाली की घोषणा करेगी. इसके अलावा कुछ नए टैक्स नियमों की घोषणा आदेशों के जरिए की जाएगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार शाम को केंद्र सरकार की 'स्टार्ट-अप इंडिया' पहल के साथ-साथ 'स्टार्ट-अप एक्शन प्लान' को विधिवत रूप से लांच किया. शनिवार शाम को होने वाले इस कार्यक्रम में देश और विदेश के शीर्ष 'स्टार्टअप' कंपनियों को मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) और संस्थापक भी हुए.

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 'स्टार्ट-अप इंडिया' पहल का स्वागत किया है. उन्होंने कहा, 'यह बहुत पहले ही होना चाहिए था.  इस देरी के लिए मैं भी जिम्मेदार हूं क्योंकि मैं काफी समय तक प्रशासन में रहा हूं.'

वहीं कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार से शुरू हो रहे केंद्र सरकार के स्टार्ट-अप इंडिया कार्यक्रम की सफलता पर शक जताया है.

केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए राहुल ने कहा, 'अगर आप असहिष्णु हैं तो आप अर्थव्यवस्था और स्टार्ट अप के मोर्चे पर नाकाम होंगे.'

First published: 16 January 2016, 7:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी