Home » बिज़नेस » STs own 3.7%, says study on wealth distributionUpper caste Hindus richest in India, own 41% of total assets; STs own 3.7%, says study on wea
 

देश की 41 फीसदी संपत्ति पर अपर कास्ट हिन्दुओं का कब्ज़ा है : रिसर्च

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 February 2019, 11:41 IST

जाति एक व्यक्ति के लिए जाति उसके शैक्षिक और पेशेवर विकल्पों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है. सावित्रीबाई फुले पुणे विश्वविद्यालय (एसपीपीयू), जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) और भारतीय दलित अध्ययन संस्थान द्वारा संयुक्त रूप से किए गए दो साल के लंबे अध्ययन में यह बात सामने आयी है.

देश की उच्च जाति का केवल 22.3 प्रतिशत हिंदू ही देश की कुल संपत्ति का 41 प्रतिशत हिस्सा रखते हैं और सबसे अमीर समूह बनाते हैं, जबकि 7.8 प्रतिशत हिंदू अनुसूचित जनजाति के पास केवल 3.7 प्रतिशत सम्पति है, या देश की संपत्ति का सबसे कम धन हिस्सा इनके पास है.

 

देश के कुल लोगों का शीर्ष 1 प्रतिशत (धन के मामले में) देश की कुल संपत्ति का 25 प्रतिशत है, जबकि शीर्ष 5 प्रतिशत का स्वामित्व 46 प्रतिशत है.  यह सामाजिक-धार्मिक आधार पर परिसंपत्तियों के बंटवारे पर गहराई से नज़र डालता है, ऐसे समय में जब केंद्र सरकार ने जातिगत रेखाओं से परे शिक्षा और नौकरियों दोनों में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की थी.

इस अध्ययन में 1,10,800 घरों को शामिल किया गया था. जिनमें से 56 प्रतिशत शहरी क्षेत्रों में और शेष ग्रामीण क्षेत्रों में 20 भारतीय राज्यों में से लिया गया था. जनसंख्या को कई समूहों में वर्गीकृत किया गया था.

इनमे हिंदू अनुसूचित वर्ग (एचएससी), हिंदू अनुसूचित जनजाति (एचएसटी), हिंदू अनुसूचित जाति (एचएससी), हिंदू अनुसूचित जनजाति (एचएसटी), गैर-हिंदू अनुसूचित जाति (एनएचएससी), गैर-हिंदू अनुसूचित जनजाति (NHSTs), हिंदू अन्य पिछड़ा वर्ग (HOBCs), हिंदू उच्च जाति (HHCs), मुस्लिम अन्य पिछड़ा वर्ग (MOBCs), मुस्लिम उच्च जाति (MHC) इसमें शामिल था.

First published: 14 February 2019, 11:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी