Home » बिज़नेस » Tata Steel: PM Cameron call emergency meeting amid threat of 40,000 job losses in British steel industry
 

टाटा स्टील बंद करेगा ब्रिटेन का बिजनेस, पीएम कैमरन ने बुलाई आपात बैठक

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 March 2016, 15:33 IST

टाटा स्टील द्वारा ब्रिटेन के व्यापार को बेचने की मीडिया में आई जानकारी के बाद से उहापोह की स्थित मच गई है. जिसके बाद ब्रिटेन में स्टील क्षेत्र में करीब 40 हजार लोगों के रोजगार समाप्त होने का खतरा मंडराने लगा है. इस पर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने एक आपातकालीन बैठक बुलाई है.

एक शोध संस्था पब्लिक पॉलिसी रिचर्स का अनुमान है कि यदि ब्रिटेन में चल रहे टाटा स्टील के व्यापार को कोई खरीदार नहीं मिलता है तो वहां स्टील क्षेत्र में 40 हजार नौकरियां खत्म होने का संकट पैदा हो सकता है. 

बताया जा रहा है कि स्टील उद्योग में आई आर्थिक मंदी के चलते टाटा कंपनी को ब्रिटेन में अपना पूरा इस्पात व्यवसाय बेचने के लिए मजबूर कर दिया है. ब्रिटेन के इस्पात क्षेत्र में मजबूत पकड़ रखने वाली टाटा स्टील इस व्यवसाय को पूरा या कई हिस्सों में बेच सकती है.

tata steel.jpg

बुधवार को ब्रिटेन के श्रमिक नेता जर्मी कॉर्बियन ने टाटा स्टील के पोर्ट टालबोट सयंत्र का दौरा किया और व्यावसायिक सचिव साजिद जावेद से मुलाकात की. जावेद का कहना था कि उनके पास टाटा स्टील की इकाई की बिक्री के अलावा अन्य कोई विकल्प नहीं है.

गौरतलब है कि ब्रिटेन में स्टील क्षेत्र में संकट गहराता जा रहा है. टाटा स्टील के अपने कारोबार बेचने की घोषणा के बाद वहां के सांसद पुर्सग्लोव ने प्रधानमंत्री डेविड कैमरन को लिखे एक पत्र में स्टील क्षेत्र को बचाने के लिए हस्तक्षेप देने की अपील की. 

पढ़ेंः क्या सरकार ने वास्तव में पेट्रोल-डीजल के दाम बाजार के हवाले कर दिया है?

बता दे कि ब्रिटेन में टाटा स्टील 17 हजार लोगों को रोजगार देती है. पिछले पांच वर्षों में कंपनी के वहां के कारोबार से संबंधित संपत्तियों में 2.88 अरब डॉलर की कमी आ चुकी है. 

आईपीपीआर का अनुमान है कि इसका असर टाटा स्टील द्वारा दिए जाने वाले 17 हजार रोजगार के अलावा इससे जुड़े 25 हजार अन्य रोजगारों पर भी पड़ेगा. इनमें लौह निर्माता, कोयला, पेट्रोलियम सप्लायर्स और मशीन निर्माता शामिल हैं. 

First published: 31 March 2016, 15:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी