Home » बिज़नेस » Telangana will give 50 salary to its employees, CM said - Treasury is afraid of being empty
 

Lockdown: ये राज्य अपने कर्मचारियों को देगा 50 फीसदी वेतन, सीएम ने कहा- खजाना खाली होने का है डर

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 May 2020, 12:23 IST

Lockdown: लॉकडाउन के चलते नकदी-तंगी के कारण तेलंगाना सरकार ने मई में भी अपने कर्मचारियों की वेतन में 50 फीसदी कटौती जारी रखने का फैसला किया है. लॉकडाउन से सभी राज्य सरकारों के राजस्व को भारी नुकसान पहुंचा है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने कहा "यदि कर्मचारियों के वेतन और पेंशन का भुगतान किया जाता है, तो खर्च 3,000 करोड़ से अधिक होगा, इससे पूरा खजाना खाली हो जाएगा फिर न कोई भी भुगतान नहीं किया जा सकता है और न ही कोई काम किया जा सकता है. इसलिए हमें एक उचित रणनीति अपनानी होगी.“

तेलंगाना सरकार सार्वजनिक प्रतिनिधियों के वेतन में 75 फीसदी वेतन, ऑल इंडिया सर्विस ऑफिसर्स 60 फीसदी, राज्य सरकार के कर्मचारियों का 50 फीसदी और मई के लिए 25 फीसदी पेंशन में कटौती करेगी. आउटसोर्सिंग और संविदा कर्मियों के लिए 10 फीसदी की वेतन कटौती होगी. सरकार ने गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को 1,500 नकद का भुगतान नहीं करने का भी फैसला किया है.


 

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक बयान में कहा गया है कि लॉकडाउन में छूट के मद्देनजर मजदूरों और श्रमिकों को दैनिक काम मिलेगा, मई से नकद सहायता प्रदान नहीं की जाएगी. हालांकि 12 किलोग्राम मुफ्त चावल की आपूर्ति मई में जारी रहेगी. सरकार ने बिना किसी बदलाव के सामाजिक सुरक्षा पेंशन का भुगतान करने का भी फैसला किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य को हर महीने 12,000 करोड़ की आय प्राप्त होनी चाहिए लेकिन यह लॉकडाउन के कारण बंद हो गई.

मई में  राज्य को 3,100 करोड़ का राजस्व हासिल हुआ. भारत में फिलहाल 31 मई तक लॉक डाउन की घोषणा की गई है. देश में पिछले 24 घंटों में 6,500 नए कोरोना वायरस के मामले सामने आये हैं. यह लगातार पांचवा दिन है जब देश में 6000 से ज्यादा मामले सामने आये हैं. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार भारत में COVID-19 मामलों की कुल संख्या आज बढ़कर 158,333 हो गई है. 

Coronavirus : पिछले 24 घंटे में आये 6,500 नए मामले, महाराष्ट्र में 24 घंटे में 100 मौतें

First published: 28 May 2020, 12:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी