Home » बिज़नेस » ticket checker collected 1.51 crores from 22,680 passengers traveling without tickets in rail
 

रेल टिकट चेकर ने बनाया रिकॉर्ड: बिना टिकट यात्रियों से 2019 में वसूले 1.51 करोड़

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 January 2020, 12:14 IST

रेलवे ने जानकारी दी है कि 2019 में एक रेलवे टिकट चेकर ने 22,680 बिना टिकट यात्रियों को पकड़ा और उनसे 1.51 करोड़ का जुर्माना वसूला. ट्रैवलिंग टिकट इंस्पेक्टर एस बी गलांडे, सेंट्रल रेलवे (सीआर) फ्लाइंग स्क्वाड का हिस्सा है, जो पिछले साल जो सबसे अधिक राजस्व प्राप्त करने वाले व्यक्ति बन गए हैं. अधिकारी ने कहा कि मध्य रेलवे के तीन अन्य टीसी ने भी 2019 में टिकट रहित यात्रियों से जुर्माना वसूलने के लिए 1 करोड़ से अधिक की वसूली की है.

इन लोगों में एम एम शिंदे और डी कुमार भी शामिल हैं. रेलवे ने कहा है कि गालांडे, शिंदे और डी कुमार ने लंबी दूरी की ट्रेनों में जुर्माना जमा किया, लेकिन रवि कुमार जी ने मुंबई उपनगरीय नेटवर्क पर यात्रियों से ऐसा ही किया है. उन्होंने कहा कि यात्रा टिकट निरीक्षक स्थानीय और लंबी दूरी की दोनों ट्रेनों में बिना टिकट यात्रियों से जुर्माना वसूलने के लिए अधिकृत हैं. 

शिंदे ने 16035 टिकट वाले यात्रियों से 1.07 करोड़, डी कुमार ने 15234 यात्रियों से 1.02 करोड़ और रवि कुमार ने 20657 यात्रियों से 1.45 करोड़ रुपये वसूल किए. एक रिपोर्ट के अनुसार मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने कहा "हमने उन्हें अपने योगदान के लिए महाप्रबंधक से नकद पुरस्कार और प्रमाण पत्र के साथ सम्मानित किया है."

2019 में सेंट्रल रेलवे ने ऐसे मामलों में 192.51 करोड़ वसूल किये थे. जबकि साल 2018 में 34.09 लाख मामलों में यह 168.30 करोड़ था. अधिकारियों का कहना है कि टिकट रहित यात्रा के खिलाफ नियमित ड्राइव के बावजूद इस तरह के मामलों की संख्या हर साल बढ़ रही है. पिछले वर्ष की तुलना में 2019 में आय में 14.39 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और बिना टिकट यात्रा के मामलों में 10.41 प्रतिशत की वृद्धि हुई है.

Jio से सस्ते इंटरनेट का दावा : 1 रुपये में एक GB डेटा दे रहा है ये स्टार्टअप

First published: 24 January 2020, 12:04 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी