Home » बिज़नेस » TVS Motor backed startup present fastest 200cc electric bike, top speed 138kmph
 

200 सीसी की सभी बाइक्स को पीछे छोड़ देगी ये नई इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल, जल्द होगी लॉन्च

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 October 2018, 12:08 IST
(CREDIT : MINT )

टीवीएस मोटर कंपनी लिमिटेड द्वारा समर्थित एक ग्रीन मोबिलिटी स्टार्टअप 200-250 सीसी वाली एक प्रीमियम इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल लॉन्च करने की योजना बना रहा है. इस इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल की टॉप स्पीड 150 किमी प्रति घंटे होगी. 2019 की दूसरी छमाही में लॉन्च होने वाली मोटरसाइकिल भारत की सबसे तेज़ और सबसे शक्तिशाली इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर होगी. अल्ट्रावियोलेट ऑटोमोटिव प्राइवेट लिमिटेड के संस्थापक निराज राजमोहन और नारायण सुब्रमण्यम ने एक इंटरव्यू में ये बात कही.

तीन साल पुराने बेंगलुरू स्थित स्टार्टअप का दावा है कि अब उनकी चौथी पीढ़ी की यह मोटरसाइकिल डिजाइन, प्रदर्शन, में पेट्रोल से चलने वाली बाइक्स से बेहतर प्रदर्शन करेगी. हालांकि अभी इसकी कीमत का खुलासा नहीं हो पाया है. कंपनी ने कहा कि यह इलेक्ट्रिक बाइक अल्ट्रावियोलेट का पहला लॉन्च होगा, पहला प्रोटोटाइप जून 2016 में बनाया गया था और कई संस्करण 10,000 किमी से अधिक के लिए टेस्ट किए गए थे.

 

कंपनी के सीईओ के सुब्रमण्यम ने कहा,"जब हमने इसके बारे में सोचना शुरू किया शुरू किया, तो हमारा इरादा सबसे अच्छी इलेक्ट्रिक बाइक बनाने का था''. अभी तक 200 सीसी में केटीएम ड्यूक 200 बाइक की स्पीड 138 किमी प्रति घंटे के साथ सबसे तेज मानी जाती थी लेकिन अल्ट्रावियोलेट का दावा है है कि इस बाइक की स्पीड इससे भी ज्यादा तेज होगी.

टीवीएस मोटर ईवीएस में अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए अल्ट्रावियोलेट की तलाश में है. पिछले साल दिसंबर से चेन्नई स्थित कंपनी ने 25.76% की कुल हिस्सेदारी के लिए दो राउंड में अल्ट्रावियोलेट में 11 करोड़ से अधिक का निवेश किया है. बाइक को बेंगलुरू में पहले और फिर अन्य मेट्रो शहरों में बेचने की योजना है.

सुब्रमण्यम ने कहा ''150 किमी से अधिक की दूरी के साथ बाइक की चौथी पीढ़ी उत्पादन के बहुत करीब है, लेकिन इसके अंतिम प्रदर्शन आंकड़ों को निर्धारित करने के लिए अधिक परीक्षण करने की जरूरत है. अल्ट्रावियोलेट दक्षता, रेंज और ऊर्जा घनत्व को अधिकतम करने के लिए लिथियम-आयन बैटरी का इस्तेमाल करेगी .

मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी राजमोहन ने कहा कि कंपनी बाइक की इंजीनियरिंग के आधार पर नौ यूटिलिटी पेटेंट दाखिल करने की प्रक्रिया में है. कंपनी 10,000 से अधिक वाहनों के साथ 2019 की शुरुआत में बेंगलुरु सुविधा स्थापित की जाएगी. अल्ट्रावियोलेट बेंगलुरू से स्मार्ट नेटवर्क स्थापित करने की योजना बना रहा है.

गौरतलब है कि भारत में कई ऑटो कंपनियां इलेक्ट्रिक  वहां के क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं. हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड समर्थित बैक स्टार्टअप एथर एनर्जी ने चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर के साथ सितंबर में अपना पहला उत्पाद इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च किया था. रॉयल एनफील्ड और बजाज ऑटो लिमिटेड जैसी अन्य दोपहिया कंपनियां भी अपने इलेक्ट्रिक वाहन विकसित कर रही हैं.

ये भी पढ़ें : अडानी और एस्सार को राहत देने के लिए गुजरात सरकार ने फिर खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

First published: 13 October 2018, 12:07 IST
 
अगली कहानी