Home » बिज़नेस » Two years after its launch, India stops printing new Rs 2,000 notes: Report
 

नोटबंदी के दो साल के भीतर सरकार ने बंद की 2000 के नोटों की प्रिंटिंग : रिपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 January 2019, 17:20 IST

भारत सरकार अब धीरे-धीरे 2,000 के नोटों को चलन से कम करना चाहती है. एक रिपोर्ट की माने तो सरकार ने अब 2000 के करेंसी नोटों की छपाई बंद कर दी है. द प्रिंट के अनुसार सरकार ने संदेह के आधार पर निर्णय लिया है कि करंसी नोट का इस्तेमाल जमाखोरी, टैक्स चोरी और मनी लॉन्ड्रिंग के लिए किया जा रहा है. 2,000 रुपये का नोट नवंबर 2016 में डिमोनेटाइजेशन के बाद जारी किये गए थे.

बड़े पैमाने पर नकदी की कमी का सामना करने के बाद सरकार ने 2000 रुपये के नए नोट पेश किए थे. मार्च 2018 तक 18.03 लाख करोड़ की करेंसी सर्कुलेशन में थी. जिसमें 6.73 लाख करोड़ करोड़ रुपये, या 37 प्रतिशत 2,000 रुपये के नोटों में थी और 7.73 लाख करोड़ रुपये, लगभग 43 प्रतिशत 500 रुपये के नोटों में थे. जब 2,000 रुपये के नोट को पेश किये गए थे, तो नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना की गई थी.

जानकारों का मानना था कि सरकार ने 1000 रुपये के नोट चलन से बाहर कर दिया था. क्योंकि यह विमुद्रीकरण के घोषित उद्देश्यों में से एक था, जिसमे कहा गया था कि उच्च मूल्यवर्ग के नोट काले धन की जमाखोरी को बढ़ा रही है. लेकिन सरकार ने 2000 के नोट जारी कर दिए. हालांकि सरकार छोटे नोटों की संख्या बढ़ा रहा है. 

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के एक दस्तावेज के अनुसार, वह जल्द ही अतिरिक्त फीचर के साथ 20 रुपये का नया नोट पेश करने जा रहा है. केंद्रीय बैंक ने पहले ही 10-रु, 50 रु, 100 रु और 500 रु के नए-पुराने चलन वाले नोट जारी किए हैं, इसके अलावा 200 और 2000 रुपये के नोटों को नोटबंदी के बाद पेश किया था. नए नोट महात्मा गांधी (नई) श्रृंखला के तहत पेश किए जा रहे हैं. पहले की तुलना में नई करेंसी नोट आकार और डिजाइन में भिन्न हैं.

500 और 1000 रुपये के प्रतिबंधित नोटों को छोड़कर पुरानी सीरीज़ के तहत जारी किए गए कानूनी नोट जारी हैं. RBI के आंकड़ों के अनुसार 31 मार्च 2016 तक 20 रुपए के 4.92 नोट चलन में थे लेकिन 18 मार्च 2018 तक यह संख्या दोगुनी से भी अधिक बढ़कर 10 बिलियन हो गई. आंकड़ों के अनुसार 20 रुपए के नोटों की कुल संख्या का चलन में कुल नोटों का 9.8% फीसदी था.

First published: 3 January 2019, 17:19 IST
 
अगली कहानी