Home » बिज़नेस » US ultimatum: India and allies to stop importing crude oil from Iran by November 4, warns of sanctions
 

अमेरिका का फरमान: भारत, चीन सहित अन्य सहयोगी जल्द बंद कर दें ईरान से तेल का आयात

सुनील रावत | Updated on: 27 June 2018, 13:40 IST
(NCBC )

अमेरिकी विदेश विभाग के एक अधिकारी का हवाला देते हुए न्यूज़ एएफपी ने बताया कि मंगलवार को अमेरिका ने भारत समेत अपने सहयोगियों से कहा है कि वह ईरान से कच्चे तेल के आयात को जितनी जल्दी हो सकते बंद कर दें. अमेरिका का कहना है कि इन देशों को 4 नवम्बर से ईरान के खिलाफ प्रतिबंध लागू होने के साथ तेल का आयात पूरी तरह बंद कर देना चाहिए. रिपोर्ट के अनुसार अधिकारी ने कहा कि अगर वह देश ईरान से तेल के आयात में कटौती नहीं करते हैं तो वह देश भी प्रतिबंधों के अधीन होंगे.

रिपोर्ट के अनुसार प्रतिबंध लागू होने के बाद किसी भी देश को ईरान से आयात पर छूट प्रदान करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. एक अधिकारी ने कहा कि भारत और चीन भी उन्ही प्रतिबंधों के अधीन होंगे जो अन्य देशों के लिए होंगे. गौरतलब है अपनी विशाल ऊर्जा आवश्यकताओं को देखते हुए भारत और चीन ईरानी तेल के प्रमुख आयातक हैं.

 

रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका ने यह संदेश यूरोप और एशिया में अपने सहयोगियों को दिया है. इस मामले में आने वाले कुछ दिनों में अधिकारियों की एक टीम भारत और चीन का दौरा भी कर सकती है. अधिकारी ने यह भी कहा कि इन देशों को अब ईरान से तेल के आयात को कम करना शुरू कर देना चाहिए और इसे 4 नवंबर पूरी तरह समाप्त कर देना चाहिए.

पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार 6 जुलाई को भारत और अमेरिका के बीच होने वाली चर्चा के दौरान इस विषय पर बातचीत हो सकती है. जल्द ही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण अपने अमेरिकी समकक्ष माइक पोम्पे और रक्षा सचिव जेम्स मैटिस के साथ वार्ता के लिए अमेरिका जा रही हैं.

ब्लूमबर्ग के अनुसार मई में ईरान ने कच्चे तेल के लगभग 2.4 मिलियन बैरल निर्यात किए थे, जबकि एशिया कुल मिलाकर लगभग दो तिहाई और बाकी यूरोप खरीद रहा है. इससे पहले 2013-2015 के दौरान अमेरिकी प्रतिबंधों के दौरान ईरानी निर्यात एक मिलियन से 1.5 मिलियन बैरल प्रतिदिन तक गिर गया था.

ये भी पढ़ें: 80 किलोमीटर भी नहीं चल पायी TATA और Mahindra की इलेक्ट्रिक कारों की बैटरी

First published: 27 June 2018, 13:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी