Home » बिज़नेस » Video of Sonam Wangchuk came again, said - Boycott China 'like treating cancer
 

सोनम वांगचुक का नया वीडियो, गलवान के शहीदों को दी श्रद्धांजलि, किये चीन पर ये बड़े खुलासे

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 June 2020, 13:31 IST

भारत में 'बॉयकॉट चाइना' की अगुवाई करने वाले सोनम वांगचुक ने एक बार फिर भारतीय उपभोक्ताओं से बीजिंग के खिलाफ एकजुट होने का आग्रह किया है. सोनम वांगचुक के नए वीडियो का शीर्षक 'चीन को जवाब- भाग 3 है. इस वीडियो में सोनम वांगचुक ने गलवान में शहीद हुए 20 सैनिकों को श्रद्धांजलि दी है. वांगचुक ने भारतीयों से भारतीय बाजार में चीनी प्रभुत्व से लड़ने के लिए संकल्प करने को कहा है. वांगचुक ने कहा लोगों को याद दिलाना चाहता हूं कि यह भारतीय सेना के साथ मिलकर चीन का मुकाबला करने के लिए लोगों की लड़ाई है.

वांगचुक ने कहा दो कारण है, जिससे चीन अपने सैनिकों की मौत का सही आंकड़ा नहीं बता रहा है. पहला, कि वे बड़ी संख्या में मारे गए हैं, या दूसरा, बहुत कम हताहत हुए हैं. वांगचुक ने कहा पहला तर्क सही नहीं हो सकता क्योंकि उन्होंने अंधेरे धोखे से भारतीय सैनिकों पर हमला किया था. वांगचुक ने कहा दूसरा तर्क सही हैं क्योंकि वे इस अपराध को अंजाम देने के बाद अपने अपराध से बचना चाहते हैं. इसलिए अपने सैनिकों के नुकसान का खुलासा नहीं कर रहे हैं." उन्होंने कहा "चीनी अधिकारी संख्या का खुलासा नहीं कर रहे हैं क्योंकि उन्हें भारतीय नागरिकों की शक्ति का डर है."


इंडिया के 'बॉयकॉट चाइना' से घबराया चीन, पढ़िए सरकारी अख़बार ग्लोबल टाइम्स ने क्या लिखा

अमूल अकाउंट सस्पेंशन, प्ले स्टोर द्वारा एंटी चाइना ऐप को हटाने और भारतीय उपभोक्ताओं पर ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के हवाले से न्यूज़ स्टोरी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए वांगचुक ने कहा "यह एक अच्छी खबर है, इसका अर्थ है कि हमारे कार्यों का असर हो रहा है."

वांगचुक का कहना है कि चीन के आयात से भारत के विनिर्माण में गिरावट आई है लेकिन उन्होंने आगे कहा कि अगर हम चीनी उत्पादों के बहिष्कार के लिए कठोर निर्णय लेते हैं तो आने वाले वर्षों में भारतीय विनिर्माण फिर से आगे बढ़ेगा. वांगचुक ने कहा "चीन का बहिष्कार करना कैंसर का इलाज करने जैसा है. आपको शुरुआत में कुछ दर्द होगा लेकिन अंत में हम चीनी निर्भरता को कुचक्र मुक्त हो जाएंगे."

आर्थिक मोर्चे पर चीन को बड़ा झटका, इम्पोर्ट पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाने की तैयारी में भारत

इंडियन रेलवे ने चीनी कंपनी से तोड़ा लगभग 500 करोड़ का कॉन्ट्रैक्ट, बताई ये बड़ी वजह

First published: 19 June 2020, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी