Home » बिज़नेस » vodafone-idea to shut down aditya birla payments bank, customers deposits will refund as per RBI norms
 

बंद हो गया यह बड़ा बैंक, अपने पैसे निकालने के लिए जल्द करें ये काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 July 2019, 18:10 IST

आम लोग अपने मेहनत की कमाई और जिंदगी भर की पूंजी बैंक में जमा रखते हैं ताकि उनका पैसा सुरक्षित रहे और कुछ ब्याज भी मिल सके. लेकिन जमाकर्ताओं के सामने विकट स्थिति तब आ जाती है जब उनका बैंक बंद हो जाता है. हालांकि रिज़र्व बैंक (RBI) ने ग्राहकों के पैसों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कई प्रावधान बनाए हुए हैं ताकि खाताधारकों को आसानी से उनका पैसा वापस मिल सके.

वोडाफोन-आइडिया टेलीकॉम ने आदित्य बिड़ला पेमेंट्स बैंक लिमिटेड को बंद करने का निर्णय किया है. बैंक के शुरू होने के महज 17 महीने बाद ही बंद जाएगा फैसला किया है. हाल ही में वोडाफोन के M पैसा पेमेंट बैंक बंद हुआ है. बैंक के कुछ कर्मचारियों का तबादला आदित्य बिड़ला ग्रुप की अन्य कंपनियों में कर दिया गया है. वोडाफोन-आइडिया के अधिकारियों ने मीडिया में जानकारी दी कि कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर को बैंक बंद करने के रेग्युलेटरी अप्रूवल मिल गए हैं.

आदित्य बिड़ला पेमेंट्स बैंक आइडिया सेल्युलर और आदित्य बिड़ला नूवो लिमिटेड का ज्वाइंट वेंचर है. इसमें आदित्य बिड़ला नूवो लिमिटेड के 51 % हिस्सा है, जबकि आइडिया सेल्युलर के 49 प्रतिशत शेयर हैं. फ़िलहाल हमारे देश में कुल 7 पेमेंट बैंक हैं जिनमें ये भी है. बैंक ने ग्राहकों के पैसे लौटने को लेकर सफाई भी दी है.

आदित्य बिड़ला पेमेंट्स बैंक लिमिटेड ने अपने ग्राहकों को कहा है कि बैंक ने उनके पैसे वापस करने के लिए तैयारी कर ली है. यह बैंक आरबीआई के निर्देशानुसार परिचालन के साथ काम करना जारी रखेगा, ताकि जमा पैसे निकालने में कोई परेशानी न हो. बैंक के पास लगभग 20 करोड़ की नकद राशि जमा है.

First published: 20 July 2019, 18:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी