Home » बिज़नेस » Volkswagen reboots India dreams, plans to invest Rs 79 bn by 2021
 

भारत में 79 अरब का निवेश करेगी फोक्‍सवैगन, बनाएगी 'मेक इन इंडिया' SUV

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 July 2018, 12:14 IST

जानी-मानी कार कंपनी फोक्सवैगन साल 2021 तक भारत में 79 अरब रुपये का निवेश करने की योजना बना रही है. स्कोडा और फोक्सवैगन दोनों ब्रांडों की भारत में 2 प्रतिशत से कम बाजार हिस्सेदारी है. कंपनी इसे 2025 तक पांच प्रतिशत से ज्यादा करना चाहती है. यात्री वाहनों (कार, वैन और उपयोगिता वाहन) के लिए भारत दुनिया का पांचवां सबसे बड़ा बाजार है.

17 साल पहले स्कोडा ने भारत में प्रवेश किया था, जबकि फोक्सवैगन ने 2007 में बिक्री शुरू कर दी थी. इन ब्रांडों ने भारत मी विनिर्माण इकाइयों को विकसित करने के लिए बड़ा संघर्ष किया.

 

स्कोडा ऑटो इंडिया के सीईओ बी माएर का कहना है कि 'फोक्सवैगन ग्रुप को महत्वाकांक्षी बनाने की जरूरत है इसलिए हम यहां 1 अरब यूरो का निवेश करने जा रहे हैं. कंपनी इस पैसे से मैन्युफैक्चरिंग और इंजिनियरिंग सेंटर का निर्माण करेगी.

फोक्‍सवैगन भारत में अपनी SUV लांच करना चाहती है, जो 'मेड इन इंड‍िया' होगी. कंपनी 2020 में भारत में इसका ग्‍लोबल लॉन्चिंग करने का मन बना चुकी है. इन दो SUV का मुकाबला ह्यूंदै क्रेटा, रेनॉ कैप्‍चर अन्य अन्य गाड़ियों से होगा. कंपनी भारत में अभी स्कोडा ऑक्‍टव‍िया, सुपर्ब और स्कोडा कोड‍ियाक के अलावा फोक्‍सवैगन टिगुआन और पसात बेच रही है.

ये भी पढ़ें : Bajaj Auto ने बनाया बिक्री का नया रिकॉर्ड, बेचे इतने वाहन

फॉक्सवैगन जल्द ही अपनी सबसे छोटी एसयूवी T-Cross को ग्लोबल मार्केट में लाने जा रही है. कंपनी ने इस को लेकर लगभग सारी तैयारियों पूरी कर ली है. कहा जा रहा है कि फॉक्सवैगन अपने इस खुबसूरत मॉडल T-Cross एसयूवी को इस साल के अंत तक लॉन्च कर सकती है.

ये भी पढ़ें-दिल्ली एयरपोर्ट पर इस खास काम को इंसान नहीं रोबोट करेंगे, इसलिए किया जा रहा है ऐसा

 बता दें कि फॉक्सवैगन T-Cross को पिछले साल जिनीवा मोटर शो में कनवर्टिबल टी-क्रॉस ब्रीज एसयूवी कॉन्सेप्ट के जरिए दिखाया गया था.

First published: 3 July 2018, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी