Home » बिज़नेस » Walmart-Flipkart deal : biggest merger deal announced today, Walmart to buy Flipkart for $15 bn
 

Walmart-Flipkart Deal : सबसे बड़े मर्जर की आज होगी घोषणा, निवेशकों के रुख से हटेगा पर्दा

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2018, 11:56 IST

दिग्गज अमेरिकी रिटेल कंपनी वॉलमार्ट और भारतीय ई कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट के बीच होने जा रहे सौदे की बुधवार को आधिकारिक घोषणा हो सकती है. अभी तक आयी ख़बरों के आधार पर कहा जा रहा है कि वॉलमार्ट फ्लिपकार्ट में 75 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने जा रहा है और इसकी लागत 15 अरब डॉलर है. इस सौदे की आधिकारिक घोषणा के बाद यह तय हो जायेगा कि वर्तमान में फ्लिपकार्ट में मौजूद निवेशक अपना कितना हिस्सा बेचेंगे.

बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार सौदे की आधिकारिक घोषणा की बैठक में वॉलमार्ट इंक के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी कार्ल डगलस मैकमिलन, वॉलमार्ट इंटरनैशनल के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्याकधिकारी जे मैककेन और वॉलमार्ट ई-कॉमर्स के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्याधिकारी मार्क लोरे हिस्सा लेंगे.

 

फ्लिपकार्ट को 2007 में सचिन बंसल और बिन्नी बंसल द्वारा स्थापित किया गया था. वर्तमान में फ्लिपकार्ट का अनुमानित मूल्य 20 बिलियन डॉलर से ज्यादा है. सूत्रों की मानें तो फ्लिपकार्ट का सबसे बड़ा निवेशक मसायोशी संस का सॉफ्टबैंक इस सौदे से बाहर निकल सकता है. जबकि सचिन बंसल कंपनी से बाहर निकल सकते हैँ. सचिन बंसल की वर्तमान में फ्लिपकार्ट में 5 फीसदी हिस्सेदारी है. बिन्नी बंसल और फ्लिपकार्ट के सीईओ कल्याण कृष्णमूर्ति इस सौदे के बाद भी फ्लिपकार्ट के साथ बने रह सकते हैँ.

भारतीय कंपनियों में अभी तक के बड़े सौदे

वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट के इस सौदे को अभी तक का सबसे बड़ा सौदा माना जा रहा है. इससे पहले रूस की रोसनेफ्ट और एस्सार आयल के बीच 12.9 अरब डॉलर का सौदा हुआ था . इसी तरह वाडाफोन-हच में 11.1 अरब डॉलर, टाटा स्टील और कोरस के बीच 12 अरब डॉलर और डायची-रैनबैक्सी के बीच 4.6 अरब डॉलर का सौदा हुआ था.

ये भी पढ़ें : वॉलमार्ट और फ्लिपकार्ट की डील को रोकने के लिए अदालत जाने की तैयारी

First published: 9 May 2018, 11:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी