Home » बिज़नेस » When 'Super 30' teacher said no to Anand Mahindra's offer
 

आनंद कुमार ने आर्थिक मदद ली थी या नहीं, आनंद महिंद्रा ने खुद किया खुलासा

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 July 2019, 10:11 IST

रितिक रोशन-स्टारर फिल्म सुपर 30 ने अपनी रिलीज़ के पहले दो दिनों में 30 करोड़ का कारोबार किया है. यह फिल्म गणितज्ञ आनंद कुमार के जीवन पर आधारित है, जिन्हें बिहार में 2002 से 'सुपर 30' की शुरुआत के बाद 400 से अधिक गरीब बच्चों का करियर संवारने का श्रेय दिया जाता है. पटना स्थित आनंद कुमार ने जेईई परीक्षाओं के लिए कम उम्र के बच्चों को मुफ्त कोचिंग प्रदान करने के अपने काम के लिए दुनियाभर में पहचान बनाई. सरकारों और निजी क्षेत्र के दिग्गजों से वित्तीय सहायता के प्रस्तावों के बावजूद आनंद कुमार ने केवल अपने स्वयं के संसाधनों पर आगे बढ़ने का फैसला लिया.

महिंद्रा समूह के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा ने भी उनका समर्थन किया है. महिंद्रा ने आनंद कुमार के साथ अपनी पिछली बैठक को याद करते हुए उनके साथ एक तस्वीर पोस्ट की. आनंद महिंद्रा ने उनके कोचिंग प्रोग्राम को आर्थिक रूप से समर्थन देने की पेशकश की थी, जिस प्रस्ताव को कुमार ने विनम्रतापूर्वक अस्वीकार कर दिया.

 

महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन ने ट्वीट किया, "आनंद कुमार लेख में कहते हैं कि उन्होंने फंड देने के मेरे प्रस्ताव को ठुकरा दिया था. मैं पुष्टि करता हूं कि जब हम मिले, तो उन्होंने विनम्रतापूर्वक वित्तीय सहायता के मेरे प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया. मैं इस बात का प्रशंसक हूं कि उन्होंने जीवन कैसे बदला''.

आनंद कुमार ने पीटीआई को बताया था "मैं किसी से कोई अनुदान या दान नहीं लेता हूं. हमारे प्रधान मंत्री, मुकेश अंबानी या आनंद महिंद्रा जैसे व्यवसायियों ने दान की पेशकश की है, लेकिन मैंने कुछ भी स्वीकार नहीं किया है. मैं सभी से मिलता हूं लेकिन मैं किसी से पैसा नहीं लेता. केवल शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा काम करना चाहते हैं.” महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन का ट्विटर पर लिखा पोस्ट तुरंत वायरल हो गया. अब तक उनके ट्वीट को 28,000 लाइक्स मिल चुके हैं, 3,500 लोगों ने इसे रीट्वीट किया है और लगभग 600 लोगों ने ट्वीट का जवाब दिया है.

सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी बेचकर 47 बिलियन डॉलर हासिल कर सकती सरकार

First published: 15 July 2019, 10:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी