Home » बिज़नेस » Will rupee breach 70? Indian currency sinks to record low against US dollar
 

क्या अब रुपया जायेगा 70 पार और तेल 90 डॉलर ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 June 2018, 10:38 IST

गुरुवार को कच्चे तेल की कीमतों में तेजी से बढ़ोतरी के दौरान रुपया 69.10 डॉलर प्रति डॉलर तक पहुंच गया. अनुमान लगाया जा रहा है कि बाजार की ऐसी ही स्थिति बनी रही तो यह 70 के पर भी जा सकता है. ईरानी तेल और अन्य तेल उत्पादक देशों पर अमेरिकी प्रतिबंधों के जवाब में फ्लैट उत्पादन को देखते हुए ब्रेंट क्रूड 72.5 डॉलर प्रति बैरल से बढ़कर 77.3 डॉलर प्रति बैरल हो गया है.

बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच में फ्रंटियर मार्केट इक्विटी रिसर्च के प्रमुख हुटन याझारी ने कहा, तेल अगले वर्ष की दूसरी तिमाही के अंत तक 90 डॉलर पर पहुंच जाएग." मंगलवार को अमेरिका ने मांग की कि सभी देशों को नवंबर के आरंभ से ईरानी क्रूड के आयात को रोक देना चाहिए. अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड गुरुवार को करीब 78.18 डॉलर पर कारोबार कर रहा था, जो 0.7 प्रतिशत था जबकि यू.एस. वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) 72.72 डॉलर पर अपरिवर्तित रहा.

साल के शुरुआत से ही रुपये में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है. इस साल अभी तक रुपया लगभग 7 फीसदी से ज्यादा टूट चुका है. इससे पहले रुपए ने 24 नवंबर, 2016 को प्रति डॉलर 68.68 का रिकॉर्ड निचला लेवल छुआ था. 

अमेरिकी विदेश विभाग के एक अधिकारी का हवाला देते हुए न्यूज़ एएफपी ने बताया कि मंगलवार को अमेरिका ने भारत समेत अपने सहयोगियों से कहा है कि वह ईरान से कच्चे तेल के आयात को जितनी जल्दी हो सकते बंद कर दें. अमेरिका का कहना है कि इन देशों को 4 नवम्बर से ईरान के खिलाफ प्रतिबंध लागू होने के साथ तेल का आयात पूरी तरह बंद कर देना चाहिए. रिपोर्ट के अनुसार अधिकारी ने कहा कि अगर वह देश ईरान से तेल के आयात में कटौती नहीं करते हैं तो वह देश भी प्रतिबंधों के अधीन होंगे.

रिपोर्ट के अनुसार प्रतिबंध लागू होने के बाद किसी भी देश को ईरान से आयात पर छूट प्रदान करने की अनुमति नहीं दी जाएगी. एक अधिकारी ने कहा कि भारत और चीन भी उन्ही प्रतिबंधों के अधीन होंगे जो अन्य देशों के लिए होंगे. गौरतलब है अपनी विशाल ऊर्जा आवश्यकताओं को देखते हुए भारत और चीन ईरानी तेल के प्रमुख आयातक हैं.

ये भी पढ़ें : अमेरिका का फरमान: भारत, चीन सहित अन्य सहयोगी जल्द बंद कर दें ईरान से तेल का आयात

First published: 29 June 2018, 10:37 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी