Home » बिज़नेस » Wipro starts online test for fresher hiring
 

Wipro ने बदला नई नौकरियों के लिए इंटरव्यू का तरीका, ऑनलाइन होगा सारा सिस्टम

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 December 2018, 12:29 IST

देश में बड़ी आईटी कंपनियां अब फ्रेशर की हायरिंग के लिए ऑनलाइन इंटरव्यू की दिशा में बढ़ रही हैं. देश की बड़ी आईटी कंपनी विप्रो ने इसी तरह की पहल शुरू की है. कंपनी ने इसे एलिट नेशनल लेवल टैलेंट हंट (एनएलटीएच) कहा है. कंपनी का कहना है कि वह फ्रेशर भर्ती को ज्यादा लोकतांत्रिक तरीके करना चाहती है. 140 मिनट की मूल्यांकन प्रक्रिया में उम्मीदवार की योग्यता, लिखित संचार कौशल और ऑनलाइन प्रोग्रामिंग क्षमताओं का परीक्षण करती है.

उम्मीदवार कोडिंग टेस्ट के लिए जावा, सी, सी ++ या पायथन - कई प्रोग्रामिंग भाषाओं में से एक चुन सकते हैं. इससे पहले एक रिपोर्ट में कहा गया था कि अमेज़न में अब काम करने के लिए पायथन जानना जरूरी नहीं है. आईटी कंपनियां तेजी से तकनीकी पृष्ठभूमि के बिना कर्मचारियों की तलाश कर रही हैं.

ग्लासडोर की एक नई रिपोर्ट के अनुसार 10 तकनीकी नौकरियों में से 4 से अधिक गैर-तकनीकी हैं. जबकि 57 प्रतिशत में तकनीकी स्किल जैसे 'सी++ या java की आवश्यकता होती है. ग्लासडोर ने अमेरिका की प्रौद्योगिकी कंपनियों से लाखों ऑनलाइन नौकरी पोस्टिंग का डेटा एकत्र किया.

तकनीकी भूमिकाओं को कोड, सॉफ्टवेयर या डेटा के ज्ञान की आवश्यकता के रूप में परिभाषित किया गया. रिपोर्ट के मुताबिक वर्कडे, सेल्सफोर्स डॉट कॉम, वेरिज़ॉन कम्युनिकेशंस एंड इंटरनेशनल बिजनेस मशीन्स (आईबीएम) में जॉब पोस्टिंग का अधिकांश हिस्सा गैर-तकनीकी काम के लिए है.

ये भी पढ़ें : मुश्किल में अनिल अंबानी, कर्जे को लेकर अदालत पहुंची स्वीडिश कंपनी एरिक्सन

First published: 20 December 2018, 11:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी