Home » बिज़नेस » you'll soon see Robot working on the National Highway, road construction companies
 

नेशनल हाईवे पर जल्द काम करते दिखेंगे रोबोट, जानिए क्यों ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 January 2018, 12:25 IST

अगली बार जब आप किसी नेशनल हाईवे पर जा रहे हो तो आपको आश्चर्यचकित होने की जरूरत नहीं है. एक रिपोर्ट की माने तो कुछ सड़क निर्माण कंपनियों ने सड़क कंस्ट्रक्शन के दौरान यातायत को निर्देशित करने के लिए रोबोट का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है. 

जानकारों की माने तो इससे श्रम लागत में कटौती और दुर्घटनाओं को कम करने में मदद मिलेगी. दो सड़क निर्माण कंपनियां अशोक बिल्डकॉन और आईएल एंड एफएस ट्रांसपोर्टेशन नेटवर्क (आईटीएनएल) रोबोट का उपयोग कर रहे हैं ताकि सड़क निर्माण स्थलों में ट्रैफिक नियंत्रित किया जा सके.

 

आईटीएनएल के कार्यकारी निदेशक और आईएल एंड एफएस इंजीनियरिंग के प्रबंध निदेशक मुकुंद सप्रे ने कहा, '' रोबोट की नियुक्ति से इंसान को चोट लगने की संभावना कम हो सकती है. 

दिसंबर में सड़क मंत्रालय संसद को देश में सड़क निर्माण और रखरखाव स्थलों में इस तरह के रोबोटों का उपयोग करने का विचार कर रहा है. "कंसेशनियर्स में से एक ने सड़क निर्माण / रखरखाव कार्यों के दौरान यातायात मोड़ सिग्नलिंग के लिए रोबोट का इस्तेमाल किया है, जिससे निर्माण स्थलों पर कोई दुर्घटना नहीं हो सकती.

 

सड़क मंत्रालय ने 4 जनवरी को लोकसभा में एक प्रश्न के जवाब में कहा था कि सड़क यातायात की समस्याओं के लिए तकनीकी कारणों से अक्सर गंभीर दुर्घटनाएं होती हैं. एक रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्गों में कुल सड़क दुर्घटनाओं का 29.6 प्रतिशत हिस्सा है. जबकि 2016 में दुर्घटनाओं में 34.5 प्रतिशत लोग मारे गए थे.

ऐसे रोबोटों का उपयोग श्रम लागत पर सड़क निर्माण कंपनियां मदद कर सकती है. पिछले तीन से चार साल में राजमार्गों के निर्माण लागत में वृद्धि के लिए श्रमिक लागत सबसे अधिक रहा. सड़क निर्माण में श्रम लागत पिछले तीन वर्षों के समय में लगभग 50% बढ़ गई है.

First published: 24 January 2018, 12:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी