Home » बिज़नेस » Your mobile number may be 11 digits soon, TRAI asks for suggestions from people
 

जल्द 11 अंकों का हो सकता है आपका मोबाइल नंबर, TRAI ने लोगों से मांगे सुझाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 September 2019, 15:05 IST

दूरसंचार नियामक ट्राई ने दूरसंचार कनेक्शनों की बढ़ती मांग को पूरा करने के विकल्पों के रूप में मोबाइल फोन नंबर को 10 से 11 अंकों का करने के लिए सुझाव मांगे हैं. सरकार ने इंटरनेट ऑफ थिंग्स और मशीन टू मशीन संचार के लिए पहले ही 13 अंकों की श्रृंखला शुरू की है. हालांकि ट्राई के एक आकलन के अनुसार 2050 तक देश की जरूरतों को पूरा करने के लिए लगभग 2.6 बिलियन नंबरों की आवश्यकता होगी.

संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के अनुसार 2027 तक चीन को पछाड़कर भारत सबसे अधिक आबादी वाला देश बनने का अनुमान है और 2050 तक 1.64 बिलियन लोगों की मेजबानी करेगा. देश में 120 करोड़ टेलीफोन कनेक्शन हैं. ट्राई ने अपने परामर्श पत्र में कहा कि भले ही यह मान लिया जाए कि 2050 में भारत में 200 प्रतिशत वायरलेस टेली-घनत्व होगा, इसमें काम करने वाले मोबाइल टेलीफोनों की संख्या देश में लगभग 328 करोड़ (1.2 billion) होने की संभावना है.

 

ट्राई ने अपने परामर्श पत्र में कहा कि भले ही यह मान लिया जाए कि 2050 में भारत में 200 प्रतिशत वायरलेस टेली-घनत्व होगा, इसमें काम करने वाले मोबाइल टेलीफोनों की संख्या देश में लगभग 328 करोड़ (1.2 billion) होने की संभावना है. नियामक ने कहा कि भले ही नंबरिंग संसाधनों का 70 प्रतिशत उपयोग हो, लेकिन वर्ष 2050 में इस देश में काम करने वाले मोबाइल टेलीफोन को पूरा करने के लिए 4.68 बिलियन नंबर पर्याप्त होंगे.

ट्राई ने मोबाइल के लिए 11 अंकों की नंबरिंग योजना पर जाने और फिक्स्ड लाइन सेवाओं के लिए 10 अंकों की संख्या के साथ जारी रखने सहित कई विकल्पों पर राय मांगी है. डेटा केवल मोबाइल नंबर (जैसे डोंगल कनेक्शन) को 10 अंकों से 13 अंकों की संख्या में स्थानांतरित करना और रिक्ति संख्या श्रृंखला 3, 5 और 6 से शुरू होती है.

आधार कार्ड पर एड्रेस बदलवाना है बहुत आसान, UIDAI ने बताये ये दो आसान तरीके

 

First published: 21 September 2019, 15:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी