Home » छत्तीसगढ़ » Chhattisgarh: IG Kalluri told Maois distribute 4000 INR in people for exchange
 

छत्तीसगढ़: आईजी कल्लूरी ने कहा कि नक्सली नोट बदलावने के लिए ग्रामीणों में बांट रहे हैं चार-चार हजार रुपये

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 November 2016, 10:59 IST
(कैच)

मोदी सरकार द्वारा की गई नोटबंदी के बाद न केवल आम जनता बल्कि नक्सली भी पुराने नोट बदलने की कोशिश कर रहे हैं.

खबरों के मुताबिक छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बस्तर में नक्सली अपने पैसों को बदलवाने के लिए क्षेत्रीय ग्रामीणों को चार-चार हजार रुपये बांट रहे हैं, ताकि वो उनके पुराने नोटों को बदल सकें.

इस मामले में बस्तर के आईजी शिवराम प्रसाद कल्लूरी ने बताया कि उन्हें शुक्रवार को दरभा ब्लॉक के तुलसी डोंगरी इलाके से सूचना मिली कि नक्सली आसपास के ग्रामीणों को चार-चार हजार रुपये बांट रहे हैं. वे ग्रामीणों की मदद से पुराने नोट बदलवाना चाहते हैं.

आईजी कल्लूरी ने बताया कि सूचना मिलने के बाद एसपी आर.एन. दाश ने भारी संख्या में जवानों के साथ तुलसी डोंगरी और कुमाकोलेंग के जंगल में सघन तलाशी अभियान भी चलाया, लेकिन नक्सली भाग गए थे.

खुफिया सूत्रों ने बताया कि माड़ इलाके में नक्सली अपना गड़ा धन निकालने की कोशिशों में जुटे हैं. नारायणपुर, दंतेवाड़ा, दोरनापाल, कोंटा, बीजापुर, भोपालपटनम, भैरमगड़, बारसूर, गीदम आदि नक्सल प्रभावित इलाकों से सटे शहरी क्षेत्रों में पुलिस के जवान सादी वर्दी में लोगों पर निगाह रख रहे हैं.

बताया जा रहा है कि पुलिस शहरी इलाकों में व्यापारियों के साथ बैठक कर उन्हें सलाह दे रही है कि वे नक्सलियों के झांसे में न आएं और उनके पैसे बदलवाने की जिम्मेदारी न लें, वरना उन पर मुकदमा चलेगा.

आईजी कल्लूरी ने बताया कि तुलसी डोंगरी में नक्सलियों ने ग्रामीणों को चार-चार हजार रुपये बांटे हैं. इस मामले की जांच की जा रही है.

उन्होंने कहा, "मैं खुद वहां गया था. अबूझमाड़ इलाके से भी पैसा बाहर निकालने की कोशिश हो रही है. हम व्यापारियों को समझा रहे हैं कि वे नक्सलियों का पैसा बदलवाने की कोशिश न करें."

First published: 20 November 2016, 10:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी