Home » क्रिकेट » After declaring Sri Lanka sold 2011 WC final to India, EX minister says it’s his suspicion
 

श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री अपने बयान से पलटे, बोले- मुझे शक, विश्व कप था फिक्स

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 June 2020, 17:37 IST

भारत और श्रीलंका के बीच साल 2011 का विश्व कप फाइनल (India vs Sri Lanka 2011 World Cup Final) मुकाबलो को फिक्स बताने वाले श्रीलंका (Sri Lanka) के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा अलुथगामगे (Mahindananda Aluthgamage) अब अपने बयानों से पीछे हटते हुए दिखाई दे रहे हैं. उन्होंने अब अपने पूर्व में किए गए दावे को संदेह करार दिया है जिसकी वो जांच चाहते हैं.

बता दें, महिंदानंदा अलुथगामगे ने हाल ही में एक इंटरव्यू दिया था जिसमें उन्होंने दावा किया था कि साल 2011 का विश्व कप फाइनल फिक्स था और इसमें श्रीलंका के कई लोग मिले हुए थे. उनके इस दावे से सनसनी मचा दी थी. महिंदानंदा अलुथगामगे ने कोई सबूत तो नहीं दिए थे, लेकिन फिर भी उनके दावों के बाद श्रीलंका सरकार ने एक जांच शुरू की है, जिसमें उन्होंने बुधवार को अपना बयान दर्ज करवाया है. उन्होंने इस जांच टीम को बताया कि उन्हें केवल फिक्सिंग का संदेह था.


अलुथगामगे ने संवाददाताओं से कहा,"मैं चाहता हूं कि मेरे संदेह की जांच हो." उन्होंने आगे कहा,"मैंने पुलिस को उस शिकायत की प्रति दी है जो मैंने तत्कालीन खेल मंत्री के रूप में आरोपों के संदर्भ में 30 अक्टूबर 2011 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद को दर्ज कराई थी."

श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री महिंदानंदा अलुथगामगे ने बीते दिनों आरोप लगाया था कि उनके देश ने भारत को विश्व कप 'बेचा' था. वहीं उनके इस दावे के बाद श्रीलंका के पूर्व खिलाड़ियों की तरफ से काफी तीखी प्रतिक्रिया आई थी.

साल 2011 के विश्व कप के फाइनल में श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत के सामने 275 रनों का लक्ष्य रखा था, जिसे टीम इंडिया ने सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर की 97 और पूर्व कप्तान धोनी की 91 रनों की पारी के दम पर आसानी से हासिल कर लिया था. भारत 28 साल बाद विश्व विजेता बना था.

जब कपिल देव ने वेस्टइंडीज की टीम से उधार में मांगी थी वाइन और फिर टीम इंडिया ने मनाया था जश्न

First published: 25 June 2020, 17:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी