Home » क्रिकेट » Ajinkya Rahane take advise on batting from the current team India team says sunil Gavaskar
 

गावस्कर- सचिन,राहुल और लक्ष्मण मेरे पास आते थे लेकिन आज टीम इंडिया से...

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 August 2018, 18:14 IST

अंजिक्य रहाणे को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज टीम इंडिया के महान बल्लेबाज सुनील गावस्कर के पास नहीं आता है. ये खुलासा खुद लिटिल मास्टर किया है. आज तक के कार्यक्रम में बतौर गेस्ट सुनील गावस्कर ने बड़ा बयान दिया.

गावस्कर ने कहा, "पहले सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रवि़ड़ जैसे बल्लेबाज भी मेेरे पास अक्सर राय लेने के लिए आते हैं. लेकिन आज हालात दूसरे हैं. टीम इंडिया की वर्तमान टीम के खिलाड़ियों के साथ अब ये नहीं है."  

गावस्कर ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा," अब कोई बल्लेबाज मेरे पास सलाह लेने के लिए नहीं आता है. पहले सचिन तेंदुलकर,राहुल द्रविड़,वीवीएस लक्ष्मण, वीरेंद्र सहवाग अक्सर दौरों के समय मुझसे बातचीत करते थे. लेकिन मुझे लगता है कि आज की पीढ़ी अलग है और उनके पास विभिन्न कोच और बैटिंग कोच हैं. अजिंक्य रहाणे एकमात्र इस टीम के बल्लेबाज है जो कभी-भी मेरे पास आते हैं."

ये भी पढ़ें- गावस्कर ने टीम इंडिया को सुनाई खरी-खोटी, खराब तैयारी के लिए इसको ठहराया जिम्मेदार 

सुनील गावस्कर ने आज तक न्यूज चैनल के साथ क्रिकेट एक्सपर्ट के तौर पर जुड़ने के बाद रविवार को भी टीम इंडिया की कड़ी आलोचना की थी. उन्होंने कहा कि विराट कोहली की अगुवाई में इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैच खेल रही टीम ने पर्याप्त तैयारियां नहीं की थी. इसका असर मैच में दिखाई पड़ा. 

गावस्कर ने भारत के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के रवैये को लेकर उनकी आलोचना कि. उन्होंने कहा कि टेस्ट फॉर्मेट में उन्हें बदलाव लाना होगा. बर्मिंघम टेस्ट की दोनों पारियों में धवन ने 26 और 13 रन बनाए. उन्होंने कहा कि वनडे में आप वो शॉट खेल सकते हैं क्योंकि स्लिप में इतने फिल्डर नहीं होते हैं. लेकिन टेस्ट मैच में आपको सावधानी बरतनी होती है. टेस्ट में ऐसे शॉट्स आपका विकेट लेता है. लेकिन ओवरसीज़ में लाल गेंद से खेलते समय आपको मानसिक तौर पर तैयार होना होता है. 

ये भी पढ़ें- इमरान के शपथ ग्रहण में न्योते पर गावस्कर ने किया कन्फर्म, कहा- सरकार कहेगी तो जाऊंगा

गावस्कर ने कहा कि नौ अगस्त से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच में पुजारा को खिलाया जाना चाहिए. उन्होंने इशारा करते हुए कहा कि पुजारा की तकनीक को देखते हुए उन्हें खिलाया जाना चाहिए, अगर पिच में ज्यादा हरी घास नहीं है. इन परिस्थतियों में हार्दिक पांड्या उमेश यादव को रिप्लेस कर सकते हैं.

गौरतलब है कि दूसरी पारी में 194 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम एजबेस्टन में 31 रनों से हार गई थी. चौथे दिन भारतीय पारी 162 रनों पर सिमट गई. उन्होंने कहा कि भारत को टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने चाहिए ताकि 200 रनों से ज्यादा का लक्ष्य होने पर इंग्लैंड पर ऐसा ही दवाब बनाया जा सका जो पहले टेस्ट में टीम इंडिया पर पड़ा था. 

First published: 7 August 2018, 18:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी