Home » क्रिकेट » Ajit Agarkar frontrunner to become chairman of selectors
 

अजीत अगरकर हो सकते हैं टीम इंडिया के नए मुख्य सेलेक्टर, रेस में हैं सबसे आगे

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 December 2020, 9:59 IST
Ajit Agarkar

भारतीय क्रिकेट टीम (India National Cricket Team) के सिलेक्शन पैनल के तीन रिक्त पदों के लिए मदन लाल की अगुवाई में क्रिकेट सलाहाकार कमेटी 11 चयनित लोगों का साक्षात्कार लेगी. पूर्व तेज गेंदबाज अजीत अगरकर पश्चिम ज़ोन से चयनकर्ता की सीट पाने के मामले में सबसे आगे चल रहे हैं. अगर अजीत भारतीय क्रिकेट टीम की चयनकर्ता समीति में आ जाते हैं तो वो नियमों के अनुसान, टीम इंडिया के मुख्य चयनकर्ता बन जाएंगे.

दरअसल, बीसीसीआई के नए संविधान के अनुसार, चयनकर्ताओं की टीम में शामिल लोगों में से जिस किसी ने भी टीम इंडिया के लिए सबसे अधिक टेस्ट मैच खेले होंगे वो मुख्य चयनकर्ता होगा. अभी यह जिम्मेदारी सुनील जोशी के पास हैं, जिन्होंने टीम इंडिया के लिए 15 टेस्ट खेले हैं. वहीं अगरकर के अलावा एबे कुरुविला और नयन मोंगिया ने पश्चिम से आवेदन किया है. हरविंदर सिंह सेंट्रल जोन से चयनसमीति में शामिल होने वाले दूसरे व्यक्ति हो सकते हैं.

नार्थ जोन से चेतन शर्मा, मनिंदर सिंह, विजय दहिया, अजय रात्रा और निखिल चोपड़ा ने आवेदन किया है जबकि पूर्व जोन से शिव सुंदर दास, देवाशीष मोहंती और रणदेव बोस ने आवेदन किया है. बता दें, कुल मिलाकर 11 लोगों को चयन किया गया है.


BCCI ने चयन पैनल की संरचना के लिए जोनल मानदंडों को बनाए रखने का निर्णय लिया है. यानि हर जोन से एक प्रतिनिधित्व होगा. पश्चिम जोन से जतिन परांजपे, पूर्व जोन से देवांग गांधी और नार्थ जोन से सरनदीप सिंह का कार्यकाल पूरा हो चुका है. बता दें, इंग्लैंड क्रिकेट टीम अगले साल की शुरूआत में भारत दौरे पर आएगी और नए चयनसमीति ही इस दौरे के लिए टीम इंडिया का ऐलान करेगी.

गुरुवार को BCCI AGM होना है और माना जा रहा है कि इसमें काफी विवाद हो सकता है. माना जा रहा है कि बोर्ड को सीधी टक्कर देने वाले राज्य सदस्य बोर्ड बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के ब्रांड इंडोर्समेंट्स पर आपत्ती कर सकते हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, सौरव गांगुली से जुड़े एक करीबी सूत्र ने बताया कि अगर कोई भी गांगुली से इस बाबत सवाल पूछता है तो गांगुली ने उसके लिए पहले ही अपने बचाव में जवाब तैयार कर रखा है.

सेलेक्शन पैनल के अलावा, भी तीन और पद हैं जिन्हें भरा जाना है. एक बीसीसीआई उपाध्यक्ष और आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के दो सदस्य. माना जा रहा है कि राजीव शुक्ला बीसीसीआई उपाध्यक्ष के रूप में लौटेंगे और बृजेश पटेल आईपीएल अध्यक्ष के रूप में बने रहेंगे. बीसीसीआई के खिलाड़ियों के निकाय ने पूर्व स्पिनर प्रज्ञान ओझा को गवर्नर काउंसिल में उनके प्रतिनिधि के रूप में बदलने के लिए नियुक्त किया है.

IND vs AUS: टीम इंडिया के लिए बड़ा झटका, मोहम्मद शमी करीब 6 सप्ताह मैदान से रहेंगे दूर

First published: 24 December 2020, 9:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी