Home » क्रिकेट » Ambati Rayudu Announce Retirement from 1st class cricket for one day and t20 cricket
 

खुलासा: इस बड़ी वजह से लिया है रायुडू ने क्रिकेट के इस फॉर्मेट से संन्यास

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 November 2018, 12:11 IST

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज अंबाति रायुडू ने शनिवार को एक बड़ा फैसला लेते हुए ऐलान किया है कि वह अब फर्स्ट क्लास क्रिकेट नहीं खेलेंगे. रायुडू ने हाल ही में टीम इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच खेली गई पांच मैचों की वनडे सिरीज में शानदार प्रदर्शन किया था.

रायुडु ने इस सिरीज के 4 मैचों में शानदार प्रदर्शन करते हुए 217 रन बनाए थे, इसके साथ ही वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए चौथे वनडे मैच में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 81 गेंदों में 100 रनों की शानदार पारी खेली थी.

रायुडू ने अपने इस शानदार प्रदर्शन को से टीम इंडिया में चौथे नंबर की जगह पक्की कर ली है. टीम इंडिया में रायुडू ने आईपीएल में शानदार प्रदर्शन करके जगह बनाई है, इस साल रायुडू ने आईपीएल में इस बार सीएसके ( चेन्नई सुपर किंग्स) की तरफ से खेलते हुए 16 मैचों में तूफानी पारी खेलेते हुए 602 रन बनाए हैं.

 

ये है संन्यास की वजह

रायडू ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास का फैसला इसलिए लिया है कि वह एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और T20 क्रिकेट पर ध्यान दे सके. हालांकि, वह छोटे प्रारूप के अंतरराष्ट्रीय और घरेलू मैचों में खेलना जारी रखेंगे, लेकिन वह रणजी ट्रॉफी जैसे घरेलू मैचों में नहीं खेलेंगे. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास की बात नहीं की है, हालांकि उन्होंने भारत के लिए एक भी टेस्ट मैच अब तक नहीं खेला है.

हालांकि रायुडू के संन्यास पर हैदराबाद क्रिकेट संघ ने प्रेस विज्ञप्ति जारी की है. प्रेस विज्ञप्ति में लिखा है, " हैदराबाद के कप्तान और भारत की वनडे टीम के सदस्य अम्बाती रायुडू ने खेल के लंबे प्रारूप से संन्यास लेने का फैसला किया जिसमें रणजी ट्राफी भी शामिल है ताकि वह सीमित ओवर क्रिकेट और T20 क्रिकेट पर ध्यान लगा सकें. वह छोटे प्रारूप के अंतरराष्ट्रीय और घरेलू मैचों में खेलना जारी रखेंगे."

इसके साथ ही रायुडू ने बीसीसीआई, हैदराबाद क्रिकेट संघ, आंध्र क्रिकेट संघ, बड़ौदा क्रिकेट संघ और विदर्भ क्रिकेट संघ का शुक्रिया अदा किया है.

अगर रायुडू के फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर की बात करें तो उन्होंने 97 मैचों में 45.56 की औसत से 6151 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने अपने बल्ले से 16 शतक और 34 अर्धशतक लगाए हैं, इसके साथ ही उन्होंने गेंदबाजी से भी शानदार प्रदर्शन किया है. रायडू ने अपने इस करियर में 10 विकेट चटकाए हैं और उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 43 रन देकर 4 विकेट है.

ये भी पढ़ें: T20 में पाकिस्तान को नहीं है कोई हराने वाला, जीत चुका है लगातार 11 सिरीज

First published: 4 November 2018, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी