Home » क्रिकेट » Ambati Rayudu Give stunning Reply to Team India Selectors
 

अंबाती रायडू ने खेली धमाकेदारी पारी, बल्ले से सेलेक्टरों को दिया करारा जवाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 October 2019, 17:17 IST

विश्व कप के 12वें संस्करण के लिए टीम इंडिया के चयन से पहले तक कहा जा रहा था कि अंबाती राय़डू की बतौैर नंबर चार के बल्लेबाज के रूप में टीम में जगह पक्की है. लेकिन जब टीम का ऐलान हुआ तो उसमें रायडू की जगह विजय शंकर को मौका दिया गया.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले में शिखर धवन चोटिल हुए तो पंत को बुलाया गया और विजय शंकर को नंबर चार के बल्लेबाज के रूप में टीम में जगह दी गई. विजय शंकर भी ज्यादा मुकाबले नहीं खेल पाए और वो भी चोटिल हुए. ऐसे में रायडू की उम्मीद एक बार फिर जगी लेकिन उनकी जगह भी मंयक अग्रवाल को बुलाया गया लेकिन रायडू को मौका नहीं दिया गया.

विश्व कप के 12वें संस्करण में टीम इंडिया मे शामिल ना किए जाने के अंबाती रायडू ने संन्यास का ऐलान कर दिया था लेकिन फिर उन्होंने यू-टर्न मारते हुए कहा कि वो संन्यास से वापस आएंगे. अंबाती रायडू ने अपने एक बयान में बताया था कि वीवीएस लक्ष्मण, नोएल डेविड और सीएसके के मैनेजमेंट ने काफी समझाया था जिसके बाद उन्होंने संन्यास से वापसी कर ली थी.

वहीं अब रायडू ने विजय हजारे ट्राफी में कर्नाटक के खिलाफ धमाकेदार पारी खेलकर अपने आलोचकों और टीम इंडिया के सेलेक्टरों को करारा जवाब दिया गया है. इन दिनों विजय हजारे ट्राफी खेली जा रही है. संन्यास के बाद वापसी कर रहे रायडू शुरू के मुकाबलों में विफल रहे थे. केरल के खिलाफ हुए मैच में वो शून्य के स्कोर पर आउट हुए है जबकि सौराष्ट्र के खिलाफ मुकाबले में वो 17 रन बनाकर आउट हुए.

लेकिन अब रायडू ने कर्नाटक के खिलाफ मुकाबले में नाबाद 87 रनों की शानदार पारी खेली है. कर्नाटक और हैदराबाद के खिलाफ मंगलार को जो मुकाबला खेला जा रहा है उसकी पिच बल्लेबाजी के लिए अच्छी नहीं है. वहीं रायडू ने तब अच्छी बल्लेबाजी की जब टीम मुश्किल परिस्थिति में थी.

लेकिन अब रायडू ने कर्नाटक के खिलाफ मुकाबले में नाबाद 87 रनों की शानदार पारी खेली है. कर्नाटक और हैदराबाद के खिलाफ मंगलार को जो मुकाबला खेला जा रहा है उसकी पिच बल्लेबाजी के लिए अच्छी नहीं है. वहीं रायडू ने तब अच्छी बल्लेबाजी की जब टीम मुश्किल परिस्थिति में थी. रायडू की पारी के दम पर ही हैदराबाद इस मुकाबले में 198 रन बनाने में सफल रही. हैदराबाद से मिले लक्ष्य का पीछा करने उतरी कर्नाटक इस मुकाबले में 177 रन ही बना पाई और उसे 21 रनों से हार का सामना करना पड़ा.

विराट कोहली ने बताई वजह, आखिर क्यों ऋषभ पंत की जगह ऋद्धिमान साहा को मिला मौका

First published: 1 October 2019, 17:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी