Home » क्रिकेट » Ashish Nehra on hurling abuses at MS Dhoni ‘Not proud of my behaviour’
 

15 साल पहले इस तेज गेंदबाज ने मैच के दौरान धोनी को दी थी गाली, अब तक हैं 'पछतावा'

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 April 2020, 15:41 IST

भारतीय टीम (India National Cricket Team) के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा (Ashish Nehra) ने अपने 18 साल के करियर में कई कीर्तिमान अपने नाम हासिल किए है. इतना ही नहीं एक बार तो नेहरा को टीम के बाहर होना पड़ा था और माना जा रहा था कि उनका क्रिकेट करियर खत्म हो चुका है लेकिन अपने करियर के अंत में आकर वो टीम इंडिया (Team India) में वापसी करने में सफल हुए, ऐसे में उनके बारे में कई बार बात होती रहती है लेकिन इन दिनों नेहरा एक बार फिर चर्चा का विषय बने हुए हैं और कारण है साल 2005 में पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ एक मुकाबले में उन्होंने धोनी (MS Dhoni) को गाली दी थी.

अहमदाबाद में भारत और पाकिस्तान (India vs Pakistan 2005 ODI Series) एक दूसरे के आमने सामने थे, 316 रनों का पीछा करने उतरी पाकिस्तानी टीम (Pakistan Cricket Team) की शुरूआत अच्छी थी. ऐसे में मैच के चौथे ओवर में आशीष नेहरा ने एक मौका बनाया था. शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने नेहरा की एक बाहर जाती गेंद को शार्ट खेला था, गेंद और बल्ले का सही संपर्क नहीं हुआ था और गेंद विकेटकीपर धोनी और पहले स्लिप पर खड़े राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के बीच से निकल गई. इसके बाद नेहरा ने अपना आपा खोते हुए धोनी को गाली दी थी जिसका वीडियो अब तेजी से वायरल हो रहा है.

टाइम्स ऑफ इंडिया से बात करते हुए इस खिलाड़ी ने कहा,'जो वीडियो वायरल हुआ हैं उसमें मैं धोनी को गाली देते हुए दिखाई दे रहा हूं, जब अफरीदी के बल्ले से गेंद लगतर धोनी और पहले स्लिप पर खड़े द्रविड़ के बीच से निकलकर गई थी. लोगों का मानना है कि यह वाईजैक में हुआ था, लेकिन यह घटना सीरीज के चौथे मुकाबला जो अहमदाबाद में था, वहां हुई थी. हालांकि मैं मानता हूं कि जो मैने किया उस व्यवहार पर मुझे गर्व नहीं करना चाहिए.'

उन्होंने आगे कहा कि, अफरीदी ने उससे पहले ही मेरी गेंद पर छक्का लगाया था.भारत और पाकिस्तान के मैच में आम तौर से ज्यादा प्रेशर होता है. अचानक मैंने एक मौका बनाया और वो चला गया. मैन अपना आपा खो दिया.' आशीष नेहरा ने आगे कहा,'द्रविड़ और धोनी ने मैच के बाद मेरे से सही वर्ताव किया था, लेकिन वह मेरे व्यवहार को सही नहीं ठहराता.'

First published: 5 April 2020, 13:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी