Home » क्रिकेट » Asia Cup 2018: is this is end of manish pandey experiment in number 4
 

अफगानिस्तान के खिलाफ मैच टाई होने के साथ ही इस भारतीय खिलाड़ी का इंटरनेशनल करियर हुआ खत्म!

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 September 2018, 10:42 IST

भारत और अफगानिस्तान के बीच मंगलवार को एशिया कप में मुकाबला हुआ. इस दौरान भारत की कप्तानी महेंद्र सिंह धोनी ने की. टीम मैनेजमेंट ने अफगानिस्तान के खिलाफ टीम में चार बड़े बदलाव किये थे.  टीम में केएल राहुल, मनीष पांडे, सिद्धार्थ कौल और डेब्यू कर रहे दीपक चाहर को टीम में शामिल किया गया था.

इस मैच में नंबर 4  के बल्लेबाज़ के रूप में देखे जा रहे मनीष पांडे को भी मौका मिला. चतुष्कोणीय सिरीज में इंडिया बी की तरफ से खेलते हुए 28 वर्षीय पांडे ने चतुष्कोणीय सीरीज में अपनी चार पारियों में 306 रन बनाए थे. इसमें गौर करने वाली बात यह भी थी कि इन चारों पारियों के दौरान पांडे नाबाद रहे। इस दौरान पांडे ने दो अर्धशतकों के अलावा एक शतक भी लगाया था.

चतुष्कोणीय सीरीज में पांडे ने साउथ अफ्रीका ए के खिलाफ 95 रन, इंडिया ए के खिलाफ 21 रन, ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ 117 रन और ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ ही अगले मैच में 73 रन बनाए थे. पांडे के इस दमदार प्रदर्शन की वजह से भारतीय वनडे टीम में उनकी वापसी हुई थी.

ऐसे में उनसे उम्मीद की जा रही थी कि वो एशिया कप में मिले मौका का पूरा फायदा उठाएंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. मनीष अफगानिस्तान के खिलाफ सिर्फ 9 रन बना के आउट हो गए. उनके आउट होने के बाद टीम इंडिया अफगानिस्तान के  मैच में वापस नहीं आ सकी और ये मैच टाई रहा.

चयनकर्ता प्रमुख एमके प्रसाद पहले ही  इस बात को साफ़ कर चुके है खिलाड़ियों को मिले मौके का फायदा उठाना होगा, दूसरी तरफ मनीष पांडेय को लगातार मौके दिए जा रहे हैं. इसके बाद भी वो  कुछ नहीं कर सके हैं. ऐसे में उम्मीद की रही है कि नंबर चार पर मनीष पांडे का प्रयोग खत्म हो सकता है.

First published: 26 September 2018, 10:42 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी