Home » क्रिकेट » Australia vs West Indies Test Match in 1955 7 tons with a double Century in this Match Most tons in A inning in Test all time
 

जब 1 टेस्ट मैच की 3 पारियों में एक दोहरे शतक के साथ लगे थे 7 शतक, नतीजा निकला..

विकाश गौड़ | Updated on: 31 August 2018, 20:01 IST
(File Photo)

साल 1955 क्रिकेट अपने पैर पसार रहा था. यह वो दौर था जब टेस्ट मैच का नतीजा जैसे तैसे निकलता लेकिन इसका रोमांच अलग ही था. उस साल ऑस्ट्रेलियाई टीम वेस्ट इंडीज के दौरे पर थी. यहां कंगारू टीम को मेजबान कैरेबियाई टीम के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की एक सिरीज खेलनी थी.

बाद में इस सिरीज का नतीजा ऑस्ट्रेलिया के पक्ष में गया. इस सिरीज को मेजबान वेस्ट इंडीज 3-0 से हार गई. सिरीज के पहले मैच को ऑस्ट्रेलिया ने 9 विकेट से जीता. दूसरा मैच ड्रॉ खेला गया फिर तीसरा मैच ऑस्ट्रलिया 8 विकेट से जीत गई. इसके बाद चौथा मैच ड्रॉ हो गया. लेकिन रोमांच पांचवे मैच में बाकी था.

दरअसल, सिरीज के पांचवे मैच में वेस्ट इंडीज ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी और देखते ही देखते ऑस्ट्रेलिया के सामने वेस्ट इंडीज ने 357 रन का स्कोर खड़ा कर दिया. इस पारी में वेस्ट इंडीज की ओर से सर क्लाइड वॉलकॉट ने 155 रन की पारी खेली. ये इस मैच का पहला शतक था.

इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम इस स्कोर का पीछा करने और बढ़त बनाने के लिए उतरी तो 245.4 ओवर खेलते हुए 8 विकेट पर 758 रन बना डाले. इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयान जॉनसन ने पारी समाप्त की घोषणा करदी. लेकिन तब तक ऑस्ट्रेलिया के 4 बल्लेबाज शतक और 1 बल्लेबाज दोहरा शतक ठोक चुका था.

एक पारी में पांच शतक ठोकने का ये वर्ल्ड रिकॉर्ड बन गया था, जो अभी तक किसी पर टूटा नहीं है. हालांकि साल 2001 में पाकिस्तान ने जरूर इस वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी की. पाकिस्तान ने बांग्लादेश के खिलाफ एक पारी में पांच शतक ठोक इस ऐतिहासिक रिकॉर्ड को चुनौती दी थी.

ये भी पढ़ेंः जब पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने एक पारी में 5 शतक ठोक बना डाले 546 रन और फिर..

बहरहाल, ऑस्ट्रेलिया की तरफ से उस पारी में सलामी बल्लेबाज कोलिन मैकडॉनल्ड ने 127, नेल हार्वे ने 204, कीथ मिलर ने 109, रोन आर्चर ने 128 और रिकी बेनौद ने 121 रन की पारी खेली थी. इसके जवाब में वेस्ट इंडीज की टीम फिर से दूसरी पारी में 319 पर ढेर हो गई थी.

इस तरह वेस्ट इंडीज की टीम ये मुकाबला एक पारी और 82 रन से हार गई. वेस्ट इंडीज की दूसरी पारी में फिर सर क्लाइड वॉलवेट ने शतक जड़ा था. उनके अलावा सर गैरी सोबर्स ने 64 रन बनाए थे. क्रिकेट की रूल बुक में ऐसा पहली बार था और अब तक आखिरी बार था जब एक मैच में सात शतक लगे हों.

First published: 31 August 2018, 20:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी