Home » क्रिकेट » Basit Ali being forced into premature retirement after match-fixing fiasco
 

भारत पर मैच फिक्सिंग का आरोप लगाने वाले बासित अली ने महज 26 साल की उम्र में लिया था संयास, जानिए क्या था कारण

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2019, 22:11 IST

पाकिस्तान के पूर्व बल्लेबाज बासित अली ने भारत पर मैच फिक्सिंग का बड़ा आरोप लगााया है. एक टीवी डिबेट में उन्होंने कहा कि भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश के खिलाफ मुकाबले में जान बूझकर हार जाएगा और ऐसा करके वो पाकिस्तान को सेमीफाइनल में पहुंचने से रोक देगा.

दरअसल, पाकिस्तान ICC Cricket World Cup 2019 में अपने बचे हुुए मुकाबले जीत भी जाए तो भी उसे भारत पर निर्भर होना पड़ेगा. क्योंकि अगर भारत अपने मुकाबलों में बांग्लादेश और श्रीलंका के हार जाए तो पाकिस्तान सेमीफाइनल की रेस से बाहर हो जाएगा. वहीं बासित ने इशारों ही इशारों में इस पूरे विश्व कप को ही फिक्स बता दिया है. लेकिन मजेदार बात यह है कि खुद बासित का करियर ही मैच फिक्सिंग के आरोपों के कारण समाप्त हुआ था.

World Cup 2019: भारत के हाथों में है पाकिस्तान का 'मुकद्दर', विराट सेना चाहेगी तभी पाकिस्तान पहुंच पाएगा सेमीफाइल में

 

बासित अली का क्रिकेट करियर काफी छोटा रहा था. उन्होंने अपने करियर में कुल 19 टेस्ट मैच खेले जिसमें उन्होंने 1 शतक व 5 अर्धशतक लगाए. जबकि उन्होंने मात्र 50 वनडे मुकाबले खेले जिसमें उनके बल्ले से 1 शतक और 9 अर्धशतक ही आए. बासित अली ने मजह 26 साल की उम्र में क्रिकेट से संयास ले लिया था. कारण था बासित का नाम मैच फिक्सिंग में उछला था. इस मामले में पाकिस्तानी खिलाड़ी सलीम मलिक और राशिद लतीफ का नाम भी उछला था. मैच फिक्सिंग में नाम आने के बाद बासित अली को मजबूरी में संयास लेना पड़ा था.

World Cup 2019: पाकिस्तान के पूर्व बल्लेबाज ने भारत पर लगाया बड़ा आरोप, कहा- जानबूझकर हारेगी टीम इंडिया

First published: 26 June 2019, 22:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी