Home » क्रिकेट » BCCI and COA Covering Difference between Indian team Senior players
 

भारतीय टीम में बढती जा रही है दरार, BCCI और COA डाल रहे पर्दा- रिपोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2019, 21:13 IST

विश्व कप के 12वें संस्करण के सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय टीम को मिली हार के बाद से ही टीम इंडिया के सीनियर खिलाड़ियों में मनमुटाव की खबरों आ रही है. हालांकि टीम के किसी भी खिलाड़ी ने इस पर कभी कुछ नहीं बोला है. वहीं सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति ने भी इन सभी खबरों का खंडन किया है. लेकिन हर बीतते दिन के साथ टीम इंडिया में दरार की खबरें बढ़ती ही जा रही है और यह खबरें मीडिया में सुर्खिया बना रही है.

न्यूज एंजेसी आईएएनएस ने बीसीसीआई के एक अधिकारी के हवाले से खबर दी है कि भारतीय टीम के सीनियर खिलाड़ियों में दरार है. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बीसीसीआई केे एक अधिकारी ने टीम इंडिया में दरार की खबरों के बाद कोशिश की थी कि कोई खिलाड़ी टीम में एकता की बात को लेकर सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखे जिससे विवाद को खत्म किया जा सके, लेकिन कोई भी खिलाड़ी इसके लिए राजी नहीं हुआ. रिपोर्ट में इस बात का दावा किया गया है कि सीओए ने भी खिलाड़ी से टीम में सब कुछ सही है जैसा पोस्ट लिखने को कही है.

 

रिपोर्ट की माने तो बीसीसीआई के अधिकारी ने कहा,'हर कोई जानता है कि खिलाड़ियों के बीच मनमुटाव है. हालांकि सीओए ने मीडिया में इस तरह की खबरों को सिरे से खारिज किया है. लेकिन सीओए के एक सदस्य ने टीम के लिए सीनियर खिलाड़ी से इस मामले पर सकारात्मक संदेश भेजने को कहा था. फिर भी किसी खिलाड़ी की ओर से ऐसी कोई पोस्ट नहीं की गई.'

वहीं न्यूज एंजेसी आईएएनएस ने सीओए के अक अधिकारी से बात करने के बाद कहा है कि सीओए तक तब इस मामले से दूर रहेगी जब तक टीम का कोई खिलाड़ी इस मामले को लेकर उनके सामने नहीं आते है.

बता दें, कई मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि लीग के मुकाबलें में इंग्लैंड के खिलाफ मैच हारने के बाद से ही कप्तान और उपकप्तान के बीच विवाद शुरू हुआ था. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि रोहित शर्मा का मानना था कि मैच में हार सिर्फ गेंदबाजों के कारण ही नहीं मिली है और बाकी के क्षेत्रों में सुधार की जरूरत है.

वहीं बीसीसीआई के एक अन्य अधिकारी ने आईएएनएस को बताया है कि ,'यह किसी कामकाजी जगह में होने वाले विवाद की तरह है जिससे टीम के प्रदर्शन पर असर पड़ सकता है. अगर इसे तुरंत नहीं सुलझाया गया तो यह काफी खतरनाक हो सकता है और इससे टीम भावना पर असर पड़ सकता है. आपकी टीम के दो कप्तान नहीं हो सकते और उनकी मीडिया टीम एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का खेल नहीं खेल सकती. टीम में विवाद है इसमें कोई शक नहीं है और एक बड़े प्रशासक का कहना है कि यह मीडिया की उपज है. अगर यही बात है तो मीडिया की उपज को तवज्जो क्यों दी जा रही है.'

विश्व कप में धमाकेदार प्रदर्शन करने का बेन स्टोक्स को मिला ईनाम, एशेज सीरीज के लिए बने उपकप्तान

 

First published: 27 July 2019, 21:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी