Home » क्रिकेट » BCCI may increase complimentary passes after state units' unrest
 

राज्य संघो से चल रहे झगड़े को सुलझाने के लिए BCCI ने उठाया ये बड़ा कदम

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 October 2018, 10:41 IST

मुफ्त पासों की संख्या को लेकर मध्य प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के साथ हुए विवाद के चलते बीसीसीआई को भारत और वेस्टइंडीज के बीच 24 अक्टूबर को होने वाला दूसरा वनडे इंदौर से विशाखापट्टनम शिफ्ट करना पड़ा था. दरअसल मध्य प्रदेश क्रिकेट संघ ने केवल पांच प्रतिशत पास मिलने पर मेजबानी करने में असमर्थता जतायी थी। जिसके बाद तमिलनाडु क्रिकेट संघ ने भी मेजबानी से हटने की धमकी दी है. बंगाल क्रिकेट संघ भी नाखुश है क्योंकि पहले उसे 40 प्रतिशत टिकट मिलते थे.

बोर्ड अपनी इस गलती से सबक लेकर मान्यता प्राप्त संघों को खुश करने के लिए मुफ्त पास की संख्या में बढ़ोतरी कर सकता है. प्रशासकों की समिति की शनिवार को होने वाली बैठक में इसका समाधान निकाला जा सकता है.ये पता चला है कि इसका एक जैसा समाधान नहीं निकल सकता है क्योंकि ईडन गार्डन्स, चेपॉक, वानखेड़े प्रत्येक की क्षमता अलग है.

बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने गोपनीयता की शर्त पर पीटीआई से कहा कि प्रशासकों की समिति की कल राजधानी में बैठक होगी. इसका एजेंडा मानार्थ पास के मसले को सुलझाना है. उच्चतम न्यायालय ने जिस नए संविधान को मंजूरी दी है उसके अनुसार 90 प्रतिशत टिकट आम जनता के लिए रखे जाने चाहिए. लेकिन इसको लेकर गंभीर व्यावहारिक मसला पैदा हो गया है और हमें तुरंत इसका समाधान ढूंढना होगा.

First published: 6 October 2018, 10:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी