Home » क्रिकेट » BCCI moves Supreme Court for full three-year terms for Sourav Ganguly and Jay Shah
 

BCCI ने सुप्रीम कोर्ट में दी अर्जी, बढ़ाया जाए सौरव गांगुली और जय शाह का कार्यकाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 May 2020, 21:27 IST
BCCI

कोरोना वायरस महमारी (Coronavirus Pandemic) का हवाला देते हुए बीसीसीआई (BCCI) के सचिव जय शाह (Jay Shah) और सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के कार्यकाल को बढ़ाने की मांग करने की अनुमति देने के लिए, बीसीसीआई की तरफ से सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में एक अर्जी दी गई है. दरअसल, बीते साल बीसीसीआई अध्यक्ष बने सौरव गांगुली का कार्यकाल इसी साल जून में समाप्त हो रहा है जबकि बीसीसीआई के सचिव जय शाह का कार्यकाल जून में समाप्त हो रहा है. ऐसे में बीसीसीआई ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है और उनसे बीसीसीआई के संविधान में संशोधन करने की मांग की है. बीसीसीआई के नियमों के अनुसार, इन दोनों को जून में दोनों को अनिवार्य ब्रेक यानि कूलिंग पीरियड में जाना होगा.

बीसीसीआई की तरफ से याचिका बोर्ड के कोषाध्यक्ष अरूण सिंह धूमल ने दायर की है जिसमें उन्होंने कहा है कि बोर्ड ने बीते साल हुई एजीएम में इन नियमों में संशोधन की मंजूरी दे दी थी और अब यह सुप्रीम कोर्ट के ऊफर छोड़ दिया गया है जो इस नियम को मंजूरी देगा. इस याचिका में जय शाह ने अनुरोध किया है कि बीसीसीआई में उनकी निरंतरता भारत के क्रिकेट नियंत्रण बोर्ड को उस समय मदद करेगी जब कोरोनोवायरस महामारी के कारण खेल संकट का सामना कर रहा है.


वहीं नेशनल हेराल्ड की एक रिपोर्ट के अनुसार, जय शाह ने 7 मई को बीसीसीआई सचिव के रूप में काम करना बंद कर दिया था, जिसके बाद अब बीसीसीआई के मीडिया विज्ञप्ति में कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल द्वारा हस्ताक्षर किए जा रहे हैं. बता दें, जय शाह और सौरव गांगुली तब बीसीसीआई में आए थे जब वो दोनों को एक साल से भी कम समय का कार्यकाल बचा था.

आरएम लोढ़ा आयोग की सिफारिशों के अनुसार, किसी को भी बीसीसीआई में या फिर किसी राज्य क्रिकेट संघ में अपने छह साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद तीन साल के लिए "कूल ऑफ" करना होता है, अगर कोई राज्य क्रिकेट संघ से बीसीसीआई में किसी पद पर आता है, यह नियम उसके लिए भी लागू होता है और उसके राज्य क्रिकेट संघ का कार्यकाल भी इसमें जोड़ा जाता है. जय शाह बीसीसीआई के पदाधिकारी बनने से पहले 2013 से गुजरात क्रिकेट संघ के संयुक्त सचिव हैं, जबकि सौरव गांगुली बंगाल क्रिकेट संघ के संयुक्त सचिव और तत्कालीन अध्यक्ष रह चुके थे.

First published: 23 May 2020, 21:27 IST
 
अगली कहानी