Home » क्रिकेट » BCCI to help countries from incurring losses in COVID pandemic- Reports
 

कोरोना वायरस के कारण छोटे क्रिकेट बोर्ड को ना हो ज्यादा नुकसान, इस प्लान से साथ सामने आया बीसीसीआई

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 April 2020, 22:53 IST

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने उन देशों के बोर्ड की मदद करने की योजना बनाई है, जिनको कोरोनोवायरस महामारी में भारी नुकसान होने की संभावना है. रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया का सबसे अमीर बोर्ड अभी यह हिसाब लगा रहा है कि प्रत्येक क्रिकेट बोर्ड को कितना नुकसान हुआ है. बता दें, आईसीसी (ICC) की बीते दिनों हुई बैठक में बीसीसीआई सचिव जय शाह (BCCI secretary Jay Shah) ने कहा था कि बोर्ड जल्द ही फ्यूचर टूर प्रोग्राम का कुछ समाधान निकालने का वादा किया था.

माना जा रहा है कि जब कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) की स्थिति सामान्य होगी, तब भारतीय टीम (India National Cricket Team) छोटी टीमों के खिलाफ अधिक मैच खेलेगी. अगर ऐसा होता है तो छोटे बोर्ड को नुकसान कम करने और राजस्व इकट्ठा करने में मदद मिलेगी. भारतीय टीम के फ्यूचर टूर प्रोग्राम पर नजर डाले को अगले 12 महीनों में टीम, श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया, ज़िम्बाब्वे और दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर जाने वाली है.


हिदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, 'भारत जितनी जल्दी हो सके, उन सभी प्रतिबद्धताओं का सम्मान करेगा.' इन द्विपक्षीय सीरीज के अलावा टीम इंडिया इस साल ऑस्ट्रेलिया में प्रस्तावित टी20 विश्व कप का भी हिस्सा होगी. हालांकि, कोरोना वायरस के कारण अभी टूर्नामेंट पर संकट के बादलों मंडरा रहे हैं.

खबर के अनुसार, बीसीसीआई ने अधिकारी ने इस मामले में कहा,'आईसीसी जब यह कह रहा है कि उसे विश्व कप के मुकाबले आठ स्थानों के उपलब्ध होने की उम्मीद है, तब क्या वो गंभीर है? क्या सभी 16 देशों की सरकारे इस विश्व में अपनी टीम को यात्रा करने की अनुमति देंगे? क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया दिसंबर में भारत के दौरे के लिए एक ही स्थान पर कई टेस्ट मैच आयोजित करने की सोच रहा है, वे विश्व कप के लिए आठ स्थानों की व्यवस्था कैसे करेंगे?'

इस अधिकारी ने आगे कहा,'हम जानते हैं कि भारत बहुत कम समय में हर दूसरे देश का दौरा नहीं कर सकता है, मौजूदा होम कैलेंडर में मैच जोड़ना और मौजूदा नुकसान को कवर करके अन्य सदस्य बोर्डों की मदद करना संभव है. भारत में आयोजित अतिरिक्त मैचों से प्राप्त आय का एक हिस्सा मेहमान टीम को दिया जा सकता है.'

ये भी पढ़े- कोरोना वायरस के कारण पाकिस्तानी खिलाड़ियों को ना हो मानसिक तनाव, बोर्ड ने अपनाया ये उपाय

First published: 26 April 2020, 22:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी