Home » क्रिकेट » Best Final Over of T20 Cricket has Ever Seen Durham beat Lancashire by 4 runs
 

इस टीम के कप्तान ने चला धोनी जैसा दांव, T20 मैच के आखिरी ओवर में चमत्कार कर ऐसे जीता मैच

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2018, 8:44 IST

साल 2007 का T20 वर्ल्ड कप याद है? होगा ही इस फॉर्मेट के पहले वर्ल्ड कप को एमएस धोनी की अगुवाई में भारत ने जीता था. क्या आपको पता है T20 वर्ल्ड इस के इस फाइनल मैच के आखिरी ओवर का रोमांच कैसा था? आपको याद हो न हो हम बता देते हैं.

भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए इस मुकाबले के आखिरी ओवर को एमएस धोनी ने जोगिंदर शर्मा को थमा दिया. हर कोई हैरान था कि अब क्या होगा लेकिन हुआ वही जो धोनी सोच बैठे थे. सभी की धड़कनों को बढ़ाने वाले इस मैच को जोगिंदर शर्मा ने जिताया और भारत विश्व विजेता बन गया.

टीम इंडिया अपने चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से ये मुकाबला 5 रन से जीत गई. ऐसा ही रोमांचक इंग्लैंड में खेले जा रहे वाइटेलिटी ब्लास्ट T20 सिरीज के एक मैच में देखा गया. जब एक टीम चार विकेट रहते एक ओवर में 6 रन नहीं बना सकी और मैच हार गई.

दरअसल, डरहम और लंकाशायर के बीच खेला गया ये मुकाबला ऐसी रोमांचक स्थिति पर पहुंच गया था, जहां से बल्लेबाजी कर रही टीम लंकाशायर की जीत सुनिश्चित थी. लेकिन किसी ने कहा है कि क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है. ऐसा ही इस मैच में भी हुआ.

इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए डरहम की टीम ने 7 विकेट खोकर 154 रन बनाए. ये लो स्कोरिंग मुकाबला लंकाशायर के पक्ष में था. लंकाशायर को आखिरी ओवर में 6 रनों की जरूरत थी. उनके चार विकेट भी बचे हुए थे. लेकिन तभी डरहम के कप्तान ने धोनी जैसा दाव खेल दिया.

दरअसल, डरहम के कप्तान टॉम लैथम (न्यजीलैंड के विकेट कीपर बल्लेबाज) ने गेंद को 19 साल के पार्ट टाइम गेंदबाज लियाम ट्रेवास्किस को सौंप दिया. इसी मैच में लियाम तीन ओवर फेंक चुके थे और 15 रन देकर एक विकेट भी ले चुके थे. लियाम भी कप्तान की आशाओं पर खतरे.

हालांकि, लियाम के लिए एक ओवर में 6 रन बचाना बेहद मुश्किल था क्योंकि उनके सामने T20 क्रिकेट के धाकड़ ऑलराउंडर जेम्स फोक्नर थे और लंकाशायर के हाथ में चार विकेट हाथ भी. ऐसे में जीत लंकाशायर की सुनिश्चित थी लेकिन मैदान में अभी एक पार्ट टाइम गेंदबाज लियाम थे जो चमत्कार करने वाले थे.

लियाम ने पहली गेंद को डॉट फेंका जिस पर फोक्नर रन नहीं भाग सके. इसके बाद दूसरी ही गेंद पर फोक्नर को कैच आउट करा दिया. इसके दो गेंद बाद लैंब को स्टंप आउट करा दिया. अब दो गेंद बाकी थी और लंकाशायर को जीत के लिए अभी भी 6 रनों की जरूरत थी.

लेकिन लियाम की अगली ही गेंद पर पार्किंसन भी चलते बने. अपनी पांच गेंद में लियाम ने लंकाशायर के तीन बल्लेबाजों को आउट कर सनसनी मचा दी थी और अब अंतिम गेंद पर 6 रन चाहिए थे लेकिन लंकाशायर के लेस्टर सिर्फ सिंगल ही ले पाए और डरहम ने इस मुकाबले को 4 रन से अपने नाम कर लिया.

First published: 9 August 2018, 8:41 IST
 
अगली कहानी