Home » क्रिकेट » Big Relief for Sachin Tendulkar BCCI Ethics officer dismiss Conflict of Interest charge
 

सचिन तेंदुलकर की बड़ी जीत, हितों के टकराव मामले में BCCI लोकपाल ने आरोप किए खारिज

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 May 2019, 8:57 IST

क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर बीते काफी समय से हितों के टकराव के मामले को लेकर चर्चा में थे, लेकिन अब बीसीसीआी के लोकपाल ने सचिन के ऊपर लगे हितों के टकराव मामले को खारिज कर दिया है.  

बीसीसीआई के लोकपाल डी के जैन ने अपने दो पन्नों के फैसले में सचिन के ऊपर लगे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि सचिन ने हितों के तटराव मामल में अपनी स्थिति साफ कर दी है, अब वह सीएसी के सदस्य के रूप में काम नहीं करेंगें.

डी के जैन ने अपने फैसले में कहा कि,‘एक बार जब बीसीसीआई कार्यक्षेत्र की शर्तों तथा कार्यकाल को स्पष्ट कर देता है तो वह इसका हिस्सा बनने के बारे में फैसला करेंगे. सचिन तेंदुलकर खुद को क्रिकेट सलाहकार समिति का हिस्सा नहीं मानते और इस रूप में काम नहीं करेंगे. इस कारण वर्तमान शिकायत कोई मायने नहीं रखती और उसे खारिज किया जाता है.’

डी के जैन ने कहा कि, सचिन ने सहमति योग्य कार्यक्षेत्र की शर्तों उपलब्ध नहीं कराए जाने की दिशा में सीओए का हिस्सा बनने से इंकार कर दिया है. इसका मतलब, है कि अगर सीओए कार्यक्षेत्र की उचित शर्तों को उपलब्ध नहीं कराता है कि तो फिर सचिन तेंदुलकर विश्व कप के बाद जब नए कोच का चयन होगा तो वो उस चयन प्रक्रिया में शामिल नहीं होंगे.

बता दें, मध्यप्रेदश क्रिकेट संघ के सदस्य संजीव गुप्ता ने सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण पर आरोप लगया था कि वो सीएसी के सदस्य होने के साथ साथ आईपीएल फ्रेंचाइजी टीमों के साथ साथ जुड़े थे.

First published: 28 May 2019, 8:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी