Home » क्रिकेट » Dale Steyn says South Africa biggest problem going into 2019 World Cup is raw pace attack at helm
 

डेल स्टेन की चेतावनी, वर्ल्ड कप 2019 में साउथ अफ्रीका के सामने ये होगी सबसे बड़ी समस्या

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 August 2018, 19:03 IST
(file photo )

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने कहा है कि अगले साल होने वाले आईसीसी विश्वकप में दक्षिण अफ्रीका के पास कोई भी अनुभवी गेंदबाज नहीं है. विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका के लिए ये सबसे बड़ी परेशानी बन सकता है. ऐसे में वो इस बड़े टूर्नामेंट में दक्षिण अफ्रीका के मुख्य अनुभवी तेज गेंदबाज की भूमिका निभा सकते हैं. वो सफेद गेंद से दक्षिण अफ्रीका की तेज गेंदबाजी में फर्क डाल सकते हैं.

तेज गेंदबाज ने दक्षिण अफ्रीका के मुख्य तेज गेंदबाज बनते जा रहे कासिगो रबाडा की जमकर तारीफ की है. उन्होंने कहा कि रबाडा इस समय उनसे बेहतर हैं. वह मुझसे भी अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं. लेकिन डेल स्टेन को लगता है कि सीमित ओवरों की क्रिकेट में उनका 116 मैचों का अनुभव और दो विश्व कप खेलने का अनुभव इंग्लैंड में होने वाले विश्वकप में टीम के काफी काम आ सकता है.

एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे डेल स्टेन ने कहा कि हमारी सबसे बड़ी समस्या सीमित ओवरों में तेज गेंदबाजी है. मुझे लगता है कि ये बहुत बड़ी समस्या नहीं है, लेकिन अनुभव के आधार पर मेरे हिसाब से ये बहुत बड़ी समस्या है. अगर आप अपने टॉप 6 बल्लेबाजों को देखें तो उनके पास 800 से ज्यादा मैच खेलने का अनुभव है. वहीं, हमारे टॉप चार गेंदबाजों को देखें तो उनके पास कुल 150 मैचों का अनुभव है.

स्टेन को भरोसा है कि उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ हाल ही में खेली गई दो मैचों की टेस्ट सिरीज में चोट को पीछे छोड़ दिया था. लेकिन इसके बाद भी उनको वनडे सिरीज में मौका नहीं मिला है. वह दो साल से वनडे टीम से बाहर हैं. उन्होंने दो साल से एक भी वनडे मैच नहीं खेला है.

स्टेन ने कहा कि उन्होंने दक्षिण अफ्रीकी कोच ओटिस गिब्सन से बात की है. उन्होंने मुझसे कहा है कि मैं इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका में होने वाली सीमित ओवरों की क्रिकेट खेलूंगा, ताकि मैं अपने आपको युवा गेंदबाजों के लिए मेंटोर के तौर पर तैयार कर सकूं.

दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज ने कहा कि टीम में मौजूद युवा तेज गेंदबाज अभी सीख रहे हैं. ऐसे में युवा गेंदबाजों के साथ आप विश्वकप में नहीं जा सकते हैं. आपको पता होना चाहिए कि आप क्या कर रहें हैं. हालांकि मैं 35 साल की उम्र में भी सीख रहा हूं. लेकिन मुझको पता है कि मैं क्या कर रहा हूं. उनको भी इसी की जरूरत है. मुझे उम्मीद है कि मैं सीमित ओवरों की क्रिकेट में खेल सकता हूं. टीम को जीत दिला सकता हूं.

स्टेन ने कहा कि वह 23 साल के राबाडा से दक्षिण अफ्रीका के लिए शानदार प्रदर्शन करवाने के लिए काफी उत्सुक हैं. वह मुझसे बेहतर हैं. वह मेरे सभी रिकॉर्ड हासिल कर सकता है. जो उसके पास है वह मेरे पास भी है. यही वह है जिससे मैं उसको आगे बढ़ा सकता हूं. जो मेरा करता हूं वह कर सकता है. वह मुझसे सीख सकता है. वह और भी बेहतर हो सकता है.

ये भी पढ़ें- ODI: रेजा हेंनड्रिक्स ने डेब्यू मैच में सबसे तेज शतक जड़ रचा इतिहास, बने दुनिया के पहले खिलाड़ी

First published: 6 August 2018, 18:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी