Home » क्रिकेट » Dilip Vengsarkar says If Rohit Sharma will be in Team India on England Tour than India can not lose the Test Series
 

'रोहित शर्मा होते टीम का हिस्सा, तो इंग्लैंड में नहीं होती टीम इंडिया की सिरीज हार की हैटट्रिक'

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 September 2018, 11:41 IST
(File Photo)

टीम इंडिया लगातार तीसरी बार इंग्लैंड में कोई टेस्ट सिरीज हारी है. टीम इंडिया ने मौजूदा सिरीज भी 3-1 से गंवा दी है. हालांकि, इस सिरीज का एक मुकाबला बचा है लेकिन इस मैच के भी कोई मायने नहीं रह जाते क्योंकि मेजबान इंग्लैंड ये सिरीज अपने नाम कर चुकी है और इंडिया के पास के केवल सिरीज हार के अंतर को कम करना होगा.

टीम इंडिया को साउथम्प्टन टेस्ट मैच में 60 रन से हार का सामना करना पड़ा था. इस हार के मुख्य गुनहगार टीम के टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज थे, जिन्होंने 20 रन भी नहीं बनाए. ऐसे में इंग्लैंड में मिली एक और हार के बाद पूर्व भारतीय दिग्गज बयानबाजी कर रहे हैं. इसी कड़ी में पूर्व चयनकर्ता ने एक बड़ा सवाल खड़ा किया है.

दरअसल, पूर्व चयनकर्ता दिलीप वेंगसरकर ने टीम इंडिया के हिटमैन रोहित शर्मा के इंग्लैंड दौरे के लिए टेस्ट टीम में शामिल ना किए जाने को भारतीय चयनकर्ताओं की क बड़ी भूल बताया है. वहीं, दिलीप वेंगसरकर ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई के चयनकर्ताओं पर सवाल उठाया है.

दिलीप वेंगसरकर का मानना है टीम इंडिया की इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट सिरीज में मिली हार की वजह रोहित शर्मा का टेस्ट टीम में ना होना भी है. आपको बता दें, दिलीप ने यूं ही ये बयान नहीं दिया है. दरअसल, इसी दौरे पर इंग्लैंड के ही खिलाफ हिटमैन T20 के बाद वनडे में भी शतक लगा चुके थे.

रोहित शर्मा इंग्लैंड के खिलाफ वनडे और T20 में सबसे बड़े रन स्कोरर थे. उन्होंने वनडे में 77 जबकि T20 में 68 की औसत से रन बनाए थे. इसके बाद भी उनका इंग्लैंड दौरे के लिए चयन न होना बीसीसीई की सलेक्शन कमिटी की चूक को दर्शाता है. यहां तक कि उन्होंने मुरली विजय की जगह पृथ्वी शॉ को चुना था. 

File Photo

पूर्व चयनकर्ता दिलीप ने मुंबई मिरर से बातचीत में कहा, ”इंग्लैंड सिरीज के दौरान टॉप फॉर्म में रहे रोहित शर्मा का टेस्ट टीम में ना चुना जाना भारत के हार की एक बड़ी वजह है. रोहित एक आक्रामक बल्लेबाज हैं जो भारतीय टीम के लिए कारगर साबित हो सकता था. विराट कोहली को रोहित के होने से काफी मदद मिलती. टीम इंडिया के पास इस सिरीज में कोई प्लान बी नहीं था.”

रोहित शर्मा टेस्ट अब तक मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी करते आए हैं लेकिन दूसरे टेस्ट के बाद रोहित शर्मा ने कहा था कि जरूरत पड़ने पर वह टेस्ट में ओपनिंग भी कर सकते हैं. ऐसे में टीम में ना चुने वह थोड़े निराश जरूर हुए होंगे लेकिन चयनकर्ताओं को ध्यान में रखना चाहिए था कि अगर बल्लेबाजी नहीं चली तो उनके पास बैक अप प्लान रहेगा.

First published: 4 September 2018, 11:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी