Home » क्रिकेट » Dinesh Karthik to replace Rishabh Pant for the final Test Against England karthik have a single chance to save his career
 

दिनेश कार्तिक को टेस्ट करियर बचाने के लिए मिला आखिरी 'गोल्डन चांस', फेल हुए तो कहानी खत्म!

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 September 2018, 13:11 IST
(File Photo)

लंदन में सात सितंबर से टीम इंडिया को इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच खेलना है. टीम इंडिया पांच मैचों की सिरीज तो पहले ही 3-1 से हार गई है. ऐसे में बस टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के पास सम्मान बचाने के अलावा कुछ बाकी नहीं है.

इस दौरे पर टीम इंडिया में कई उतार-चढ़ाव देखने को मिले हैं. सलामी जोड़ी से लेकर मिडिल ऑर्डर, और विकेटकीपर बल्लेबाज से लेकर स्पिन गेंदबाजी सभी अलग-अलग मोर्चों पर फेल नजर आए हैं. इस दौरे पर कप्तान विराट कोहली और कुछ हद तक पुजारा और रहाणे को छोड़ दें तो सभी ने निराश किया है.

चार मैचों में टीम में कई बदलाव हुए यहां तक कि दिनेश कार्तिक की जगह ऋषभ पंत को मौक दिया गया लेकिन पंत भी दो मैच खेलकर फ्लॉप होने के बाद बाहर बैठने का मन बना चुके हैं. ऐसी खबरें भी आ रही हैं कि दिनेश कार्तिक को पांचवे टेस्ट में मौका दिया जा रहा है.

ये भी पढ़ेंः इंग्लैंड दौरे ने खत्म किया टीम इंडिया के इन 3 बल्लेबाजों का करियर!

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, दिनेश कार्तिक को लंबे समय तक कीपिंग की प्रैक्टिस करते देखा गया है. आपको बता दें, दिनेश कार्तिक को पहले दो मैचों में खिलाने के बाद ड्रॉप कर दिया था. नंबर 6 पर दिनेश कार्तिक न तो रन बना पाए और ना ही सही से विकेटकीपिंग कर सके. 

लेकिन अब माना जा रहा है कि टीम मैनेजमेंट दिनेश कार्तिक को इंग्लैंड टूर के आखिरी मैच में एक मौका देगा. दिनेश कार्तिक के पास खुद को साबित करने के लिए यह आखिरी चांस होगा. बता दें कि दिनेश कार्तिक 12 साल बाद वापस टीम में लौटे हैं, लेकिन फिर भी फेल साबित हुए हैं.

ये भी पढ़ेंः पांचवें टेस्ट से पहले टीम इंडिया को लगा बड़ा झटका, ये दिग्गज खिलाड़ी हुआ बाहर

दरअसल, टीम इंडिया को विकेटकीपर की तलाश थी क्योंकि धोनी के बाद ऋद्धिमान साहा टीम इंडिया के रेगुलर विकेटकीपर थे. लेकिन साहा को चोट लग गई. इसका फायदा दिनेश कार्तिक और ऋषभ पंत को मिला, जिन्हें इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में चुना गया. 

निराश करने वाली बात ये रही कि दिनेश कार्तिक पहले दो मैच में फेल होने के बाद बैंच पर विराजमान हो गए जबकि आखिरी के दो मैचों में ऋषभ पंत उन्हीं के बराबर में आ बैठे. ऐसे में मैनजमेंट चाहता कि पंत को भविष्य में शायद मौका मिल जाए लेकिन कार्तिक के पास करियर बचाने का ये आखिरी मौका है.

आपको बता दें, दिनेश कार्तिक ने इस दौरे पर केवल 21 रन बनाए हैं. यहां तक कि दो बार कार्तिक जीरो पर भी आउट हुए हैं. वहीं, पंत ने जरूर दूसरी गेंद पर छक्का जड़कर अपना मेडन टेस्ट रन बनाया लेकिन अगले ही मैच में वह 28 गेंदों में बिना खाता खोले लौट गए थे.

First published: 6 September 2018, 13:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी