Home » क्रिकेट » Ehsan Mani likely to head ICC- Media Reports
 

भारत के खिलाफ ICC में हो रही 'साजिश', सौरव गांगुली नहीं बन पाएंगे आईसीसी के अध्यक्ष!

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 June 2020, 19:10 IST
Ehsan Mani

भारतीय क्रिकेट टीम (India National Cricket Team) के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (BCCI President Sourav Ganguly) के बारे में बीते दिनों चर्चा था कि वो अपने हमवतन शशांक मनोहर (Shashank Manohar) की जगह अगले आईसीसी के अध्यक्ष (ICC Chairman) हो सकते है. सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के नाम पर कई बोर्ड और दिग्गज खिलाड़ी अपनी सहमति जता चुके हैं. हालांकि, अब एक रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (Pakistan cricket Board) के अध्यक्ष एहसान मनी (Ehsan Mani) शशांक मनोहर की जगह आईसीसी के अध्यक्ष बन सकते हैं और वो अचानक से इस रेस में आए हैं लेकिन फिर भी वो सभी उम्मीदवारों से काफी आगे हैं क्योंकि कई टेस्ट खेलने वाले देश उन्हें इसके लिए समर्थन दे रहे हैं.

पाकिस्तान के अखबार द न्यूज की एक रिपोर्ट के अनुसार, एहसान मनी के करीबी सूत्र ने सोमवार को इस बात की पुष्टि की है कि मणि पर कई शीर्ष टेस्ट खेलने वाले देश दवाब बना रहे हैं कि वो आईसीसी चेयरमैन की प्रतिष्ठित भूमिका को स्वीकार करें.


बता दें, एहसान मनी का नाम आईसीसी के अध्यक्ष के रूप में अचानक से सामने आया है लेकिन रिपोर्ट की मानें को इस मामले से जुड़े एक अधिकारी ने कहा है कि आईसीसी में भारत का काफी प्रभाव है और उस प्रभाव को कम करने के लिए ही कई टेस्ट खेलने वाले कई देश चाहते हैं कि एहसान मनी अगले महीने आईसीसी अध्यक्ष के लिए चुनाव लड़ें.

खबर के अनुसार, जुलाई में आईसीसी की जनरल काउंसिल की मीटिंग होनी है और उस मीटिंग से पहले एहसान मनी विभिन्न आईसीसी सदस्य देशों से समर्थन का प्रस्ताव स्वीकार करना चाहते हैं. मामाले से जुडे व्यक्ति ने कहा,"प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा आश्वस्त होने के बाद मनी ने पीसीबी अध्यक्ष बनने के लिए भूमिका स्वीकार की. उन्होंने जिम्मेदारी ली क्योंकि वह पाकिस्तान क्रिकेट की सेवा करना चाहते थे. यदि वो चुनाव लड़ने के लिए सहमत होते हैं तो उन्हें समय से पहले पीसीबी छोड़ना होगा."

बता दें, एहसान मनी साल 2003 में आईसीसी के अध्यक्ष रह चुके हैं और वो मौजूदा समय में आईसीसी की सबसे प्रभावशाली कमेटी में से एक वित्त और वाणिज्यिक मामलों की समिति के प्रमुख हैं. रिपोर्ट के अनुसार, इस अधिकारी ने कहा,"कई प्रमुख क्रिकेट बोर्ड के प्रतिनिधियों का मानना है कि मनोहर को नए आईसीसी अध्यक्ष के रूप में बदलने के लिए वह सही व्यक्ति हैं. उनके पास ज्ञान और अनुभव है और क्रिकेट की दुनिया में उनका सम्मान है."

इतना ही नहीं रिपोर्ट में दावा किया गया है कि मणि एक चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं और उनका अनुभव ऐसे समय में आईसीसी के काम आ सकता है जब पूरे विश्व कोरोना वायरस महामारी से जूझ रहा है और उसके कारण कई क्रिकेट टूर्नामेंट स्थगित कर दिए गए हैं जिसके बाद कई क्रिकेट बोर्ड और आईसीसी को काफी आर्थिक नुकसान हुआ है और इसी कारण उन्हें एक बेहतर उम्मीदवार माना जा रहा है.

साल 2005 में शोएब अख्तर पर लगा था रेप का आरोप, अब तेज गेंदबाज ने बताई सच्चाई, बोर्ड पर लगाए गंभीर आरोप

First published: 9 June 2020, 12:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी