Home » क्रिकेट » FIA directed to book Babar Azam in Hamiza Mukhtar’s harassment case- Report
 

पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम की बढ़ सकती है मुश्किलें, कोर्ट ने दिया FIR दर्ज करने का आदेश, जानिए क्या है मामला

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 March 2021, 20:06 IST

पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजन की एक बार एक बार फिर मुश्किलें बढ़ सकती है. खबर के अनुसार, लाहौर की एक स्थानीय अदालत ने गुरुवार को संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) को आदेश दिया है कि वह पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान बाबर आज़म के खिलाफ हमीज़ा मुख्तार को परेशान करने और ब्लैकमेल करने के लिए आरोप में मामला दर्ज करे.

पाकिस्तान ऑब्जर्वर की रिपोर्ट के अनुसार, स्थानीय मीडिया ने बताया कि अतिरिक्त जिला और सत्र न्यायाधीश हामिद हुसैन ने एफआईए को बाबर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है. हामिद हुसैन ने बाबर के अलावा, इस मामले में दो महिलाओं के खिलाफ भी मामला दर्ज करने का आदेश दिया है. 


Hamiza Mukhtar

रिपोर्ट के अनुसार, हामिद हुसैन ने यह आदेश तब जारी किया, जब सामने आया कि शिकायतकर्ता को परेशान करने के लिए जिस मोबाइल फोन नंबर का इस्तेमाल किया जा रहा था, वह 26 वर्षीय क्रिकेटर और दो महिलाओं जिनकी पहचान मरयम अहमद और सलेम बीबी के रूप में हुई है, उनका था. अदालत ने जांचकर्ताओं को बिना किसी देरी के मामला दर्ज करने का निर्देश दिया है.

बताते चलें कि, पिछले साल नवंबर में लाहौर की हमिजा मुख्तार ने मीडिया के सामने आकर बाबर आजम पर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि क्रिकेटर ने उनसे शादी का झूठा वादा कर उनके साथ यौन शोषण किया और जबर्दस्ती गर्भपात कराया. हमिजा मुख्तार के इस दावे के बाद भूचाल सा आ गया था. हमिजा मुख्तार ने इसके बाद अदालत में अपनी याचिका दायर की थी. हालांकि, इस साल जनवरी में पाकिस्तान के एक खेल पत्रकार ने दावा किया था कि हमिजा मुख्तार ने अदालत से अपनी अर्जी वापस ले ली है. बता दें, हमिजा मुख्तार ने अदालत में कुल पांच अलग-अलग अर्जी दायर की थी.

वेस्टइंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज आंद्रे रसेल ने पीएम मोदी को दिया धन्यवाद, जानिए क्या है कारण

First published: 18 March 2021, 20:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी