Home » क्रिकेट » Former Team India opener VB Chandrasekhar suicides at age of 57
 

टीम इंडिया के पूर्व तूफानी ओपनर ने पंखे से लटककर की आत्महत्या, धोनी को बनाया था CSK का स्टार !

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 August 2019, 11:18 IST

भारतीय टीम के पूर्व तूफानी ओपनर और महेंद्र सिंह धोनी को चेन्नई सुपर किंग्स में लाने वाले वीबी चंद्रशेखर ने पंखे ले लटककर आत्महत्या कर ली है. जहां एक तरफ आज क्रिकेट के खेल में अथाह पैसे हैं वहीं वीबी चंद्रशेखर का आर्थिक तंगी की वजह से सुसाइड करना बहुत कुछ बयां करता है. 

वीबी चंद्रशेखर चेन्नई स्थित अपने घर में गुरुवार को मृत पाए गए. चेन्नई के माइलापोर स्थित अपने घर में उनका शव पंखे से लटका मिला. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने आत्महत्या कर ली. चंद्रशेखर की पत्नी ने बताया कि उन्होंने काफी देर तक नहीं खुलने के बाद चंद्रशेखर के कमरे का दरवाजा खटखटाया.

 

जब कोई जवाब नहीं मिला तो उन्होंने खिड़की से अंदर झांककर देखा. चंद्रशेखर का शव पंखे से लटक रहा था. उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी. पत्नी ने बताया कि वह चाय पीने के बाद शाम पौने छ: बजे अपने कमरे में चले गए थे. पत्नी के अनुसार, क्रिकेट बिजनेस में नुकसान होने की वजह से वह कई दिनों से तनाव में ‌थे.

वीबी चंद्रशेखर ने देश के लिए सात वनडे खेले थे. उन्हें भारत के आक्रामक ओपनरों में गिना जाता था. वहीं, फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उनका औसत 43.09 का था. चंद्रशेखर तमिलनाडु प्रीमियर लीग में वीबी कांची वीरंस टीम के मालिक थे. कहा जा रहा है कि इसी टीम को लेकर वे आर्थिक तंगी से गुजर रहे थे. 

उनकी मौत की खबर से भारतीय क्रिकेट जगत सन्न रह गया है. अनिल कुंबले, हरभजन सिंह आदि टीम इंडिया के वर्तमान और पूर्व क्रिकेटरों ने उनके निधन पर शोक जताया. वीबी चंद्रशेखर को महेंद्र सिंह धोनी को आईपीएल टीम चेन्नई सुपरकिंग्स में लाने का श्रेय जाता है. साल 2008 में IPL की शुरुआत के समय वह चेन्नई सुपरकिंग्स के पहले ऑपरेशंस डायरेक्टर थे. तब टीम के अधिकतर खिलाड़ियों को लाने में उनकी अहम भूमिका थी. चंद्रशेखर ने तीन साल तक CSK के लिए काम किया था.

इंग्लैंड की महिला विकेटकीपर ने बिना कपड़ों की फोटो डाल किया हैरान, कभी कोहली भी मिलने के लिए थे बेकरार

कभी आत्महत्या करना चाहते थे कुलदीप यादव, आज कर दिया ये काम तो बना देंगे इतिहास

First published: 16 August 2019, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी