Home » क्रिकेट » From Where the Idea Came to open With Rohit Sharma Ravi Shastri Reveal
 

कहां से आया था रोहित शर्मा को टेस्ट में ओपनिंग कराने का विचार, रवि शास्त्री ने किया बड़ा खुलासा

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 September 2019, 20:51 IST

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में भारत की तरफ से रोहित शर्मा ओपनिंग करते हुए दिखाई देंगे. रोहित शर्मा ने इससे पहले कभी टीम इंडिया के लिए ओपन नहीं किया है. वहीं दूसरी तरफ टेस्ट मैचों में रोहित का रिकॉर्ड भी ज्यादा अच्छा नहीं है. कहा जा रहा है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज रोहित शर्मा के करियर का टर्निंग पाइंट साबित होगा.

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के ऐलान के दौरान टीम इंडिया के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने साफ कहा था रोहित शर्मा को अब सलामी बल्लेबाज के तौर पर मौके दिए जाएंगे. दरअसल, के एल राहुल लगातार बीते दो साल से टेस्ट में प्रदर्शन करने में विफल रहे है. जिसके बाद कई पूर्व क्रिकेटरों ने कई खिलाड़ियों ने नाम पर चर्चा की और अपनी राय जाहिर करते हुए कहा कि उन खिलाड़ियों को टेस्ट में ओपनिंग कराई जाए.

 

वहीं अब टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री ने इस बात को कहा कि आखिर टीम मैनेजमेंट और सेलेक्टरों के पास यह विचार कहा से आया कि रोहित शर्मा से टेस्ट में ओपनिंग कराई जाए. रवि शास्त्री ने हिन्दुस्तान टाइम्स को दिए इंटरव्यू में इस बात को कहा है. उन्होंने बताया,'ये सब मिलाजुला है. मुझे हमेशा से लगा है कि रोहित में एक्स-फैक्टर है. लेकिन ये काफी मुश्किल होता है, नंबर-5 या नंबर-6 के बल्लेबाज के लिए करना. ये सबकुछ दिमाग से जुड़ा हुआ है. अगर वो इससे उबर जाते हैं तो वो हमारे लिए मैच विनर साबित हो सकते हैं. और हम उन्हें इसके लिए समय देंगे, हम उन्हें पुश नहीं करेंगे.'

इसके बाद उनसे सवाल पूछा गया,'आप एक बल्लेबाज के तौर पर कैसे आगे बढ़े, कैसे लोअर ऑर्डर से टॉप ऑर्डर बल्लेबाज बने, रोहित के मामले में फैसला लेने में इसका भी हाथ रहा होगा?' जिसके जवाब में उन्होंने कहा,'यही मेन कारण है कि मैंने उसे 2015 में ऐसा करने के लिए कहा था. मैं उससे अपने अनुभव की बात कर रहा था. ऐसे बहुत से खिलाड़ी रहे हैं, जिन्हें भारत के लिए पारी का आगाज करना चाहिए था, लेकिन कम में ही इतना दम था. कभी-कभी सबकॉन्टिनेंट में आपको बस पांच बल्लेबाजों की जरूरत होती है. मेरे लिए यही मौका था और मैंने इस तरह से ही पारी का आगाज करना शुरू किया था.'

इसके बाद रवि शास्त्री ने वीरेंद्र सहवाग को भी उदाहरण के तौर पर पूछा गया. उन्होंने कहा,'बिल्कुल, सहवाग जैसा खिलाड़ी... वेस्ट इंडीज दौरे (2001-02) पर टीम गेट-टूगेदर में मैं उनसे मिला था. तब उनसे टेस्ट में ओपनिंग को लेकर 15 मिनट तक बातचीत हुई थी. मैंने उनसे कहा था कि आप ऐसा करिए और ये आपके लिए बेस्ट पोजिशन होगी. बाकी सब अब इतिहास है. मैंने उनसे कहा था कि ओपन करना बस माइंड गेम है.'

धोनी के बारे में हुआ बड़ा खुलासा, टीम इंडिया से दूर रहने के पीछे IPL हैं बड़ी बजह !

First published: 26 September 2019, 19:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी