Home » क्रिकेट » Gautam Gambhir attacks on Virat Kohli and coach Ravi Shastri for experimenting too much
 

'कप्तान कोहली और कोच रवि शास्त्री की वजह से बर्बाद होने की कगार पर इस दमदार खिलाड़ी का करियर'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 March 2019, 17:18 IST

कप्तान विराट कोहली और हेड कोच रवि शास्त्री से पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर काफी नाराज हैं. विश्व कप से पहले टीम इंडिया में किए गए इतने एक्सपेरिमेंट को लेकर वह विराट कोहली और शास्त्री पर भड़के हुए हैं. उन्होंने कहा है कि इतना ज्यादा एक्सपेरिमेंट की वजह से ही अंबाती रायडु का करियर बन नहीं पा रहा है.

दरअसल, हाल ही में भारत-ऑस्ट्रेलिया वनडे सीरीज में भारतीय टीम ने काफी एक्सपेरिमेंट किए हैं. वहीं 30 मई से विश्वकप खेला जाना है. भारतीय क्रिकेट टीम के वनडे फॉरमैट में अलग-अलग एक्सपेरिमेंट से अभी तक टीम के कई स्थानों को लेकर प्लेयर डिसाइड नहीं हो पाए हैं. 

इसी को लेकर गंभीर ने सवाल उठाया है. गंभीर ने कहा है कि अभी तक टी इंडिया के लिए नंबर-4 का बल्लेबाज डिसाइड नहीं हो सका है. गंभीर ने इसके लिए कप्तान विराट और कोच रवि शास्त्री जिम्मेदार ठहराया है.

गंभीर ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वऩडे सीरीज में पहली तीन पारियों के बाद अंबाती रायुडू को बाहर बैठाने के लिए भी विराट कोहली की आलोचना की. गंभीर ने कहा, "अगर आप विश्व कप के लिए बैटिंग ऑर्डर सेट करना चाहते हैं तो नंबर-4 का बल्लेबाज पहले से तय होना चाहिए और उसको सपोर्ट मिलना चाहिए."

गंभीर को लगता है कि रायडू के ऊपर भी टीम मैनेजमेंट को भरोसा बनाए रखना चाहिए था. उन्होंने कहा कि जब शिखर धवन और महेंद्र सिंह धौनी रन नहीं बना पा रहे थे तब भी उन पर भरोसा बनाए रखा गया. उन्होंने कहा कि रायडू का वनडे में औसत करीब 50 का है. फॉर्म में रहना नहीं रहना खेल का हिस्सा है. उन्होंने कहा कि अभी तक नंबर-4 पोजिशन सेट हो जानी चाहिए थी.

गंभीर ने याद दिलाया कि साल 2011 के विश्व कप में विराट कोहली नंबर-4 बल्लेबाज थे और उन्हें टीम मैनेजमेंट ने सपोर्ट किया था. उन्होंने कहा कि नंबर-4 की बल्लेबाजी पोजिशन बहुत अहम होती है.

First published: 19 March 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी