Home » क्रिकेट » Cricketer Gautam Gambhir: said, no ties with Pakistan until cross border terrorism ends
 

पाकिस्तान पर भड़के गंभीर बोले- 'क्रिकेट और कला ही नहीं सारे संबंध तोड़ लेने चाहिए'

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:47 IST
(फाइल फोटो)

उरी हमले और सर्जिकल स्ट्राइक के बाद बदले हुए माहौल में पाकिस्तानी कलाकारों पर प्रतिबंध लगाने की मांग का क्रिकेटर गौतम गंभीर ने समर्थन किया है. गंभीर ने कहा है कि पाकिस्तान से केवल क्रिकेट ही नहीं बल्कि हर तरह के संबंध तोड़ लेने चाहिए.

सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने दो साल के बाद भारतीय टेस्ट टीम में वापसी की है. भारत में हो रहे विरोध की वजह से पाकिस्तानी कलाकारों की फिल्म की भारत में रिलीज अटकी हुई है. इसमें फवाद खान की ऐ दिल है मुश्किल और माहिरा खान की रईस शामिल है. रईस में शाहरुख खान ने मुख्य भूमिका निभाई है.

गौतम गंभीर ने मंगलवार को एक कार्यक्रम के दौरान कुछ समाचार चैनलों से बातचीत में कहा, "मेरे लिए देश का हित पहले है. हमारे लोगों की सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है."

'जिसने अपना बेटा खोया है उससे पूछिए'

गंभीर ने साथ ही कहा, "पाकिस्तान के खिलाफ किसी तरह का कोई रिश्ता नहीं रखना चाहिए, चाहे वो क्रिकेट हो या बॉलीवुड. क्योंकि अगर आप उस शख्स से पूछेंगे जिसने अपनी जान गंवाई है, जिसने अपना बेटा खोया है तो आपको इसका जवाब मिल जाएगा."

इंदौर टेस्ट से टीम इंडिया में वापसी करने वाले गंभीर ने पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान का विरोध करने वालों की हो रही आचोलना पर एक तरीके से पलटवार किया है. 

'कमरों में बैठकर मत तय कीजिए'

फवाद खान ने करण जौहर की फिल्म 'ए दिल है मुश्किल' में अभिनय किया है. करण जौहर ने पहले विरोध को गलत बताया था. हालांकि मंगलवार को सामने आए वीडियो संदेश में उन्होंने कहा कि उनके लिए देश पहले है लिहाजा वो पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम नहीं करेंगे. हालांकि उन्होंने फिल्म को रिलीज करने की अपील की है. 

गंभीर ने इस दौरान कहा, "इस तरह कमरों में बैठ कर और अपनी-अपनी नौकरियों में मशगूल रहते हुए कोई भी आसानी से कह सकता है कि क्रिकेट और कला को राजनीति से अलग रखना चाहिए. लेकिन जिन्होंने अपने बच्चों को खोया है अगर आप उनसे पूछेंगे तो वह पाकिस्तान से किसी तरह का कोई रिश्ता नहीं रखना चाहेंगे."

'हमारे लोगों की जान महत्वपूर्ण'

सलामी बल्लेबाज ने कहा, "मैं इस बात से पूरी तरह सहमत हूं कि जब तक पाकिस्तान के साथ सीमा पर जारी आतंकवाद खत्म नहीं हो जाता, हमें उनके साथ कोई संबंध नहीं रखना चाहिए, क्योंकि हमारे लिए हमारे लोगों की जान महत्वपूर्ण है."

गंभीर ने आगे कहा, "वह निर्दोष जवान जिन्होंने हमारी जान बचाने के लिए सरहद पर अपनी जान गंवा दी, उनकी जिंदगी हमारे लिए महत्वपूर्ण है. फिल्म और क्रिकेट से यह कहीं ज्यादा अहम है. इसलिए मैं इस बात का पूरी तरह समर्थन करता हूं कि हमें पाकिस्तान के खिलाफ किसी तरह का कोई संबंध नहीं रखना चाहिए."

First published: 19 October 2016, 12:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी