Home » क्रिकेट » gautam gambhir on stone pelters and says Only then they b allowed to contest 2019 elections
 

पत्थरबाजों पर फूटा गंभीर का गुस्सा, कश्मीर समस्या का बताया ये हल

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 June 2018, 17:33 IST

कश्मीर में आए दिन सेना और पत्थरबाजों के बीच होने वाले संघर्ष को लेकर क्रिकेटर गौतम गंभीर ने गुस्सा जताया है. इसके साथ ही उन्होंने कश्मीर समस्या का भी समाधान दिया है. गौतम गंभीर ने कश्मीर में पत्थरबाजी की घटनाओं को लेकर दो  ट्वीट किए हैं.

इसमें उन्होंने अपना गुस्सा निकालते हुए कश्मीर समस्या का एक समाधान भी दिया है. गंभीर ने कश्मीर समस्या के समाधान के लिए राजनेताओं को कश्मीर में रहने के लिए कहा है. बता दें कि गंभीर शहीदों के परिवारों की मदद के लिए हमेशा आगे रहते हैं. वह किसी ना किसी माध्यम से शहीदों के परिवारों की मदद करते रहते हैं.

गंभीर ने अपने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में जवानों की गांड़ी पर पत्थरबाजी हो रही है. इस वीडियो के साथ गंभीर ने लिखा, 'मैं बहुत दुखी हूं, सोचता हूं कि क्या भारत अब भी यही सोचता है कि पत्थरबाजों से कमरे में बैठकर बातचीत की जा सकती है. उन्होंने आगे लिखा, छोड़िए इन बातों को और असलियत देखिए. राजनेताओं को चाहिए कि वो सुरक्षाबलों को मौके दें ताकि सीआरपीएफ उन्हें रिजल्ट दे.

गंभीर ने एक और ट्वीट किया. इसमें गंभीर ने कश्मीर समस्या का हल बताते हुए लिखा, मेरे पास कश्मीर की इस समस्या का एक हल है. जो राजनेता साल 2019 में चुनाव लड़ना चाहते हैं उनके लिए कश्मीर में अपने परिवार के लिए एक हफ्ता गुजारना अनिवार्य किया जाए. ताकि उनको सुरक्षाबलों की परेशानियां समझ में आए. इसके साथ ही वो कश्मीर होने का असली मतलब भी समझ पाएंगे.

आपको बता दें कि कश्मीर में एक भीड़ ने सुरक्षाबलों की गाड़ी पर पत्थरबाजी कर दी. इस दौरान एक युवक सेना की गाड़ी के नीचे आ गया. इस घटना से घाटी में तनाव बढ़ गया है. इस मामले में कश्मीर पुलिस ने अज्ञात पत्थरबाजों और गाड़ी के ड्राइवर पर केस दर्ज किया है.

First published: 3 June 2018, 17:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी